जागरण संवाददाता, ऊधमपुर : ग्रामीण विकास विभाग के निदेशक मोहम्मद मुमताज अली ने विभाग द्वारा किए जा रहे विकास कार्यो का जायजा लेने के लिए ऊधमपुर का व्यापक दौरा किया। दौरे के दौरान अधिकारियों के साथ बैठक कर उन्होंने पीएमजीएसवाई के लिए स्वीकृत सभी कार्यो को जारी वित्तीय वर्ष में पूरा कर शत-प्रतिशत लाभार्थियों को इसका लाभ पहुंचाने की अपील की।

टिकरी से ऊधमपुर के रास्ते में उन्होंने ऊधमपुर और टिकरी ब्लाकों में ग्रामीण विकास विभाग की विभिन्न योजनाओं के तहत जारी विकास कार्यो का निरीक्षण किया। उन्होंने ब्लाक विकास अधिकारियों को काम की गति में तेजी लाने के निर्देश दिए, जिससे काम निर्धारित समय सीमा पर पूरे किए जा सकें। कामों का निरीक्षण करने के साथ निदेशक ग्रामीण विकास विभाग ने जिले में अधिकारियों के साथ बैठक की, जिसमें उन्होंने विभाग की विभिन्न योजनाओं की भौतिक और वित्तीय उपलब्धियों की समीक्षा की। इसके साथ ही उन्होंने महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम (मनरेगा), बजट प्रदर्शन, मजदूरी का भुगतान, आधार सीडिग का विवरण, वर्ष 2018-19 और 2019-20 के अधूरे चल रहे कार्यो की प्रगति का विवरण लिया। 2021-22 के दौरान उत्पन्न मैनडेस (दिहाड़ी), 2021-22 के श्रम बजट, मनरेगा के तहत देनदारियों की स्थिति, नए जाब कार्ड जारी करने की जानकारी ली। इसके साथ ही मनरेगा के चरण-एक और दो के दौरान टैगिग की स्थिति, 14वीं एफसी के तहत निष्पादित कार्यो की स्थिति, प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण (पीएमएवाई-जी), सीडी और पंचायत, आरजीएसए के तहत पंचायत घरों की स्थिति का विस्तृत लेखा जोखा लिया।

निदेशक ने बैठक के दौरान सभी बीडीओ को जारी वित्तीय वर्ष के अंदर सभी स्वीकृत घरों को पूरा कर पीएमएवाई (जी) के तहत 100 प्रतिशत पात्र लाभार्थियों की कवरेज सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कई महत्वपूर्ण मापदंडों पर प्रगति की गति पर संतोष व्यक्त किया। उन्होंने बीडीओ को सीडी एवं पंचायत में जारी विकास कार्यो की प्रगति में तेजी लाने के निर्देश दिए। इससे पूर्व सहायक आयुक्त विकास ऊधमपुर मुश्ताक अहमद चौधरी ने जिले में आरडीडी क्षेत्र की विभिन्न योजनाओं की प्रगति के बारे में विस्तृत जानकारी पावर प्वाइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से दी।

बैठक में एडीडीसी ऊधमपुर कांता देवी, आइईडब्ल्यू के सुपरिटेंडिग इंडीनियर अनिल कुमार पंडोही, एक्सईएन आरईडब्ल्यू राम सिंह के अलावा सभी ब्लाकों के ब्लाक विकास अधिकारी, ग्रामीण विकास विभाग के एईई, एई व अन्य अधिकारी मौजूद थे।

Edited By: Jagran