संवाद सहयोगी, ऊधमपुर : सोमवार को जिलाआयुक्त र¨वद्र कुमार ने डीसी दफ्तर परिसर में बने सम्मेलन हॉल में जिले में दिसंबर 2018 में समाप्त तिमाही के लिए जिला स्तरीय समीक्षा समिति (डीएलआरसी) और जिला परामर्शदात्री समिति (डीसीसी) की समीक्षा करने के लिए विभिन्न विभागों के बैंकर्स और जिला अधिकारियों की एक बैठक बुलाई। बैठक में विभिन्न मुद्दों पर चर्चा हुई, जिसमें मुख्य रूप से प्राथमिकता क्षेत्र और समाज के कमजोर वर्गो के लिए ऋण का प्रवाह, केसीसी जारी करना, बैंक और प्राथमिकता के लिए ऋण देने में क्षेत्रवार उपलब्धियां/गैर प्राथमिकता क्षेत्र, जमा और अग्रिम से संबंधित प्रमुख क्षेत्रों का समीक्षा प्रदर्शन शामिल है।

बैठक में वित्त हेमभूमि किसान के संयुक्त देयता वाले किसान समूहों, ऊधमपुर जिले की वित्तीय समावेशन योजना, तिमाही के दौरान बैंकों की ग्रामीण शाखाओं द्वारा वित्तीय साक्षरता कार्यक्रमों की संख्या, वित्तीय साक्षरता परामर्श केंद्र का कार्य, प्रधानमंत्री आवास बीमा योजना, प्रधानमंत्री की योजनाओं का कार्यान्वयन, जिले में मुख्यमंत्री आवास योजना, 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करना, ईबीटी/डीबीटी के लिए आधार की फी¨डग, वित्तीय साक्षरता परामर्श केंद्र (एफएलसीसी) का कार्य प्रधानमंत्री के साथ स्टैंड-अप इंडिया कार्यक्रम, इस मौके पर डेटा बैंक और अन्य मुद्दों को समय पर प्रस्तुत करने पर भी मुलाकात के दौरान विस्तार से चर्चा की गई। इस अवसर पर डीडीसी ने विभिन्न सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के बारे में आम जनता में व्यापक जागरूकता फैलाने के लिए आम लोगों के लिए संयुक्त जागरूकता शिविरों का आयोजन करने के लिए जिले में अपने संबंधित बैंकों के बैंकरों और क्षेत्रीय अधिकारियों पर जोर दिया। डीडीसी ने सभी बैंकरों और सेक्टोरल अधिकारियों को सार्वजनिक वितरण प्रणाली को अपने दरवाजे पर लाने के लिए अवगत कराया। डीडीसी ने बैंकरों को निर्देश दिया कि वे अन्य लोगों के साथ अन्य लाइन विभागों के समन्वय में लोगों के बीच वास्तविक लाभों को बनाए रखने के लिए आम जनता के लिए अधिक साक्षरता शिविरों का आयोजन करें और सभी विभागों को डिजिटल सोसाइटी के सपने को जीने के लिए आधार, सामाजिक सुरक्षा योजनाओं की कवरेज सुनिश्चित करने के लिए कहा। डीडीसी ने लाभार्थियों की कठिनाइयों को कम करने के लिए पात्र मामलों को मंजूरी देने की आवश्यकता को रेखांकित किया। डीडीसी ने कहा कि बैंकों व अन्य विभागों के अधिकारी लक्ष्य तय करें, ताकि निर्धारित समय सीमा में जमीन पर परिणाम प्राप्त करने में कोई बाधा न आए।  वहीं, इस मौके पर एलडीएम एसबीआइ, बाल नेहरू ने वित्तीय वर्ष 2018-19 के दौरान विभिन्न बैंकों उके प्रदर्शन और उपलब्धियों के बारे में जानकारी दी।

Posted By: Jagran