जागरण संवाददाता, ऊधमपुर : अखिल एपीएस राष्ट्र स्तरीय अंग्रेजी वाद-विवाद प्रतियोगिता में उपविजेता ट्रॉफी जीतकर आर्मी पब्लिक स्कूल (एपीएस) उधमपुर के विद्यार्थयों ने इतिहास रचा है। स्कूल के प्राचार्य संजीव कुमार के मार्गदर्शन में विद्यार्थियों ने संस्थान के लिए एक और उपलब्धि प्राप्त की है।

राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता में हिस्सा लेने के लिए भारतीय सेना की उत्तरी कमान के तहत सभी एपीएस स्कूलों के बीच क्वालीफाई प्रतियोगिता में कड़ा मुकाबला हुआ। जिसमें बेहतरीन प्रदर्शन कर एपीएस उधमपुर ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित प्रतियोगिता का आयोजन आर्मी वेलफेयर एजुकेशन सोसाइटी (एडब्ल्यूइस), नई दिल्ली के तत्वावधान में किया गया। प्रतियोगिता की मेजबानी एपीएस शंकर विहार ने वर्चुअल तरीके से जूम वेब प्लेटफॉर्म पर की। जिसमें एपीएस उधमपुर, एपीएस मथुरा, एपीएस दिल्ली कैंट, एपीएस महू, एपीएस फाजिल्का, एपीएस बेंगलुरु, एपीएस बैरकपुर सहित कुल सात एपीएस स्कूलों ने हिस्सा लेकर विभिन्न कमांड का प्रतिनिधित्व किया। वाद-विवाद का विषय उद्यमिता (नौकरी चाहने वाले बनाम नौकरी देने वाले) मिथक या वास्तविकता था। प्रतियोगिता में उप विजेता रही, एपीएस उधमपुर की अंग्रेजी वाद-विवाद टीम में 12वीं कक्षा की साक्षी गुप्ता ने पक्ष में विचार रखे और ग्यारहवीं कक्षा की कृष्णा राठौड़ ने विपक्ष में विचार रखे। वहीं, ग्यारहवीं कक्षा के मास्टर ईशान पांडे ने इंटरजेक्टर के तौर पर अपनी बात रखी। प्रतियोगिता में हिस्सा लेने के दौरान वक्ता बहुत स्पष्टवादी थे। जिन्होंने बेहद स्पष्ट तरीके से अपने विचार प्रस्तुत किए। टीम का मार्गदर्शन अंग्रेजी विभाग की रश्मि कांडपाल पांडे और मीनाक्षी संब्याल ने किया।

स्कूल के प्राचार्य संजीव शर्मा ने स्कूल का नाम रोशन करने के लिए विद्यार्थियों को बधाई दी।

Edited By: Jagran