जागरण संवाददाता, ऊधमपुर : मानदेय बढ़ाने की मांग को लेकर आंदोलन कर रहीं आंगनबाड़ी वर्कर्स और हेल्पर्स ने मंगलवार शाम को अपना आंदोलन समाप्ति की घोषणा कर दी। प्रधानमंत्री द्वारा मानदेय में की गई वृद्धि के चलते उन्होंने यह फैसला लिया। वहीं, इससे पहले आंगनबाड़ी वर्कर्स ने आइसीडीएस दफ्तर का घेराव कर उसके बाहर धरना-प्रदर्शन किया।

आंगनबाड़ी वर्कर्स व हेल्पर्स यूनियन की जिला उपप्रधान अंजू शर्मा के नेतृत्व में सुबह प्रदर्शनकारी आसीडीएस दफ्तर परिसर में एकत्रित हुई, जहां पर उन्होंने दफ्तर का घेराव कर बाहर धरना-प्रदर्शन किया। उन्होंने मानदेय बढ़ाने सहित अन्य मांगों को पूरा करने के साथ ही गत दिनों पांच वर्कर्स को नौकरी से निकालने का विरोध किया। उन्होंने कहा कि अपनी मांगों को लेकर केवल निकाली गई पांच वर्कर्स ही आंदोलन नहीं कर कर रही थीं। यदि नौकरी से निकालना है तो सभी आंदोलन कर रही वर्कर्स को निकाला जाए। अन्यथा नौकरी से निकाली गई पांचों वर्कर्स को भी बहाल किया जाएगा। दफ्तर के समय तक यह आंदोलन चलता रहा।

इसके बाद शाम को अंजु शर्मा और पल्लवी गुप्ता ने बताया कि प्रधानमंत्री ने आंदोलन कर रही आंगनबाड़ी वर्कर्स व हेल्पर्स के मानदेय में वृद्धि कर दी है, जिसके चलते यूनियन ने अपना आंदोलन समाप्त कर बुधवार से वापस काम पर लौटने का फैसला लिया है। बुधवार को सभी आंगनबाड़ी वर्कर्स व हेल्पर्स अपने अपने केंद्रों में ड्यूटी पर वापस लौटेंगी।

Posted By: Jagran