राकेश शर्मा, कटड़ा

पवित्र चैत्र नवरात्र में विश्व प्रसिद्ध स्थल मां वैष्णो देवी भवन की अद्भुत सजावट देख श्रद्धालु मंत्रमुग्ध हैं। यहां हर श्रद्धालु मैया सोहना (सुंदर) नजारा तेरे भवना दा कहते हुए माता के दरबार में हाजिरी लगा रहे हैं। जगह-जगह बने विशाल स्वागत द्वार, भवन प्रांगण में स्थापित देवी-देवताओं की मूर्तियां, देशी-विदेशी फल-फूलों की सजावट सभी को मंत्रमुग्ध कर रही है। श्रद्धालु दर्शन के साथ भव्य सजावट को मोबाइल तथा कैमरे में कैद भी कैद करते रहे।

आधार शिविर कटड़ा से लेकर मां वैष्णो देवी भवन तक श्रद्धा की बयार बह रही है। श्रद्धालु माथे पर चुनरी बांधे हाथों में मां का झंडा लिए जय माता दी पुकारते हुए यात्रा कर रहे हैं। कोई हेलीकाप्टर, कोई बैटरी कार, कोई घोड़ा, पिट्ठू, पालकी तो कोई दंडवत निरंतर मां के भवन की ओर बढ़ रहा है। भवन के साथ मार्ग में चौबीस घंटे मां के भजन गूंज रहे हैं। विशाल चंडी महायज्ञ शुरू

वैष्णो देवी भवन के सरस्वती भवन के परिसर में श्राइन बोर्ड की ओर से विशाल शतचंडी महायज्ञ शुरू किया गया। महायज्ञ का शुभारंभ श्राइन बोर्ड के सीईओ रमेश कुमार, एसडीएम नरेश कुमार ने पूजा-अर्चना कर किया। 31 प्रकांड पंडित हवन यज्ञ कर विश्व के साथ ही देश में सुख-शांत की कामना करेंगे। कोरोना महामारी के खात्मे को लेकर विशेष प्रार्थना होगी। सभी धार्मिक स्थलों की भव्य सजावट

मां वैष्णो देवी के भवन के अलावा भैरव घाटी, आद्क्वांरी मंदिर, मां वैष्णो देवी के प्रवेश द्वार दर्शनी ड्योढ़ी की भी भव्य सजावट की गई है जो देखते ही बन रही है। श्रद्धालुओं को यात्रा के दौरान श्राइन बोर्ड की ओर से स्थापित भोजनालयों में व्रत फलाहार भी उपलब्ध करवाया जा रहा है। श्रद्धालु यात्रा के दौरान सांझी छत क्षेत्र के साथ ही हिमकोटी में निश्शुल्क लंगर में प्रसाद ग्रहण कर रहे हैं। कोरोना के बढ़ते मामलों से यात्रा प्रभावित

मार्च महीने में प्रतिदिन श्रद्धालुओं की संख्या 15 से 20 हजार के करीब थी। देश के विभिन्न प्रांतों में कोरोना महामारी के बढ़ते के मामलों के चलते वैष्णो देवी यात्रा प्रभावित हुई है। वर्तमान में यात्रा का आंकड़ा प्रतिदिन 10 हजार से 14000 के मध्य पहुंच गया है। नवरात्र के पूर्व यानी 12 अप्रैल को 12000 श्रद्धालुओं ने मां के दरबार हजारी लगाई थी। नवरात्र के प्रथम दिन यानी 13 अप्रैल को शाम 6 बजे तक करीब 6000 श्रद्धालु वैष्णो देवी भवन की ओर प्रस्थान कर चुके थे और श्रद्धालुओं का आना निरंतर जारी था। उधर, श्रद्धालुओं को श्राइन बोर्ड, सुरक्षाबल के जवानों की ओर से जागरूक किया जा रहा है कि शारीरिक दूरी का विशेष ध्यान रखें, मास्क पहनें।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप