जम्‍मू, जागरण संवाददाता, करवाचौथ पर्व पर आज वीरवार  इस दिन कोई अपने सुहाग की दीर्घायु के लिए तो कोई चांद सा पति पाने की कामना से इस कठोर व्रत को रखेगा। मुख्य तौर पर सुहागिनों द्वारा रखे जाने वाले व्रत को लेकर कुंवारी युवतियों में भी खासा उत्साह देखने को मिल रहा है। वहीं, करवाचौथ पर बाजार में खूब खरीदारी हुई। बाजार में मनियारी और मेहंदी लगाने के साथ ब्यूटी पार्लर और बुटीक देर रात तक खुले रहे।

करवाचौथ व्रत को सुहागिनें अपने पति की लंबी उम्र की कामना के लिए रखती हैं। सुबह सरगी खाने के बाद व्रत शुरू करने के बाद दिनभर निराहार व निर्जल रह व्रत करेंगी। महिलाओं द्वारा रखा जाने वाला यह व्रत कठोर व्रतों में से एक है। दिनभर इस व्रत को करने के बाद शाम को चंद्र उदय होने पर सुहागिनें चंद्र देव को अ‌र्घ्य देकर अपना व्रत पूर्ण करेंगी और पति के हाथों से जल और अन्न ग्रहण कर उपवास संपन्न करेंगी।

सुहागिन महिलाओं द्वारा रखे जाने वाले इस व्रत को लेकर कुंवारी युवतियों में भी काफी उत्साह है। सुहागिनें जहां पति की लंबी आयु के लिए तो विवाह योग्य कुंवारी युवतियां चांद जैसा व मनचाहा पति पाने की कामना के साथ यह व्रत करती हैं। इस व्रत को लेकर सुहागिनें और कुंवारी लड़कियां दोनों ही मेंहदी लगाने से लेकर हार श्रृंगार के लिए ब्यूटी पार्लरों में सजने और संवरने में व्यस्त हैं। शादी के बाद जिन नवविवाहित लड़कियों का का पहला करवाचौथ है। उनके घरों में तो उत्सव सा माहौल है और इस व्रत को लेकर विशेष तैयारियां की जा रही हैं।

बाजारों में है महिलाओं की भीड़ 

करवाचौथ की पूर्व संध्या पर ऊधमपुर के बाजारों में इतनी ज्यादा भीड़ रही कि लोगों को कहीं से भी गुजरने में खासा समय लगा। सुबह से ही बाजार में व्रत के लिए खरीदारी करने वाली महिलाओं के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया। शहर के बस स्टैंड, आटे वाली गली, मुखर्जी बाजार, लंबी गली, मेन बाजार सहित मनियारी की दुकानों वाले बाजारों में इतनी ज्यादा भीड़ थी कि लोगों को एक से दूसरी जगह पहुंचने के लिए काफी समय लगा। पैदल चलते हुए लोगों का कंधे से कंधा टकराता रहा। भीड़ के चलते बुधवार को लंबी गली और मुखर्जी बाजार में दो पहिया वाहनों का प्रवेश वर्जित कर दिया गया। इसके लिए रामनगर चौक और गोल मार्केट में तो बाकायदा नो एंट्री का बैरीकेड लगाया था। इसी तरह लंबी गली में गोल मार्केट और सैला तालाब मस्जिद के पास सुरक्षाबलों को तैनात किया गया था। मुखर्जी बाजार में जहां चूडि़यों व श्रृंगार सामग्री की खरीदारी करने वाली महिलाओं की भीड़ थी, वहीं, लंबी गली में मेहंदी लगाने वाली महिलाओं की खासी भीड़ रही। भीड़ के चलते बाजार में सुरक्षाबलों की बड़ी संख्या में तैनाती की गई थी। इसमें पुलिस के साथ महिला पुलिस और खुफिया पुलिस के साथ अर्धसैनिक बलों के जवान तैनात थे।

देर रात तक खुले रहे ब्यूटी पार्लर और बुटीक

करवाचौथ पर सजने संवरने के लिए बड़े से छोटे सभी ब्यूटी पार्लर पहले से ही एडवांस में बुक हैं। कहीं पर भी किसी नए ग्राहक को समय नहीं मिल रहा। करवाचौथ व्रत के चलते पिछले कुछ दिनों से शहर से बड़े से लेकर छोटे सभी पार्लर में महिलाओं ने एडवांस बुक करवा रखी है। बुधवार और वीरवार को तो कोई भी पार्लर किसी भी नए ग्राहक को समय नहीं दे रहा। वहीं, एडवांस बुक के बावजूद महिलाओं को अपनी बारी के लिए घंटों इतंजार करना पड़ रहा है। सजने के लिए पहुंच रही महिलाओं की भीड़ के चलते पार्लर वालों की चांदी है। इसी तरह बुटीक वाले भी करवाचौथ के लिए ग्राहकों के सूटों की सिलाई कर ग्राहकों को देने में लगे हैं। इसके चलते इलाके के सभी बुटीकों में सुबह से रात तक काम होता रहा।

सरगी के सामान की भी हुई खरीदारी

करवाचौथ व्रत के मद्देनजर पूरी देवकनगरी फेनी और कतलमों की खुशबू से महकती रही। करवा चौथ पर अन्य सामान के साथ ही फेनी और कतलमों की भी खूब खरीदारी हुई। व्रत आरंभ करने से पूर्व व्रत रखने वाली सभी व्रती महिलाएं सुबह सूर्य उदय से पूर्व तारों के रहते हुए पूजा कर सरगी खाती हैं। सरगी में फेनी, कतलमे, अन्य चीजों के साथ विशेष रूप से खाने की परंपरा है। माना जाता है कि सरगी में इन चीजों को खाने से व्रत रखने में मदद मिलती है। जिसके चलते पूर्व संध्या पर लोगों ने सरगी के सामान की खरीदारी भी की। 

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप