राज्य ब्यूरो, श्रीनगर : सुरक्षाबलों ने अपने आतंकरोधी अभियान को जारी रखते हुए शनिवार को दक्षिण कश्मीर के टिकन, (पुलवामा) में दो आतंकियों को मार गिराया। बीते दो दिनों में दक्षिण कश्मीर में मारे गए आतंकियों की संख्या तीन हो गई है। इस बीच, आतंकियों की मौत के बाद पैदा हुए हालात को देखते हुए प्रशासन ने पुलवामा में इंटरनेट सेवाओं पर रोक लगाते हुए सभी संवेदनशील इलाकों में धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू कर दी है।

जानकारी के अनुसार, टिकन में बीती रात आतंकियों का एक दल अपने किसी संपर्क सूत्र के पास आया था। इसका पता चलते ही सेना की 55 आरआर, सीआरपीएफ और राज्य पुलिस के विशेष अभियान दल के एक संयुक्त कार्यदल ने गाव की घेराबंदी कर ली। शनिवार तड़के सुरक्षाबलों ने गाव में तलाशी अभियान चलाया और जैसे ही जवान आतंकी ठिकाना बने मकान के पास पहुंचे, आतंकियों ने उन पर फायर कर दिया। जवानों ने भी जवाबी फायर किया। इसके साथ ही मुठभेड़ शुरू हो गई।

जवानों ने आतंकियों को कई बार आत्मसमर्पण के लिए कहा, लेकिन आतंकियों ने फायरिंग जारी रखी। करीब दो घटे चली मुठभेड़ में दोनों आतंकी मारे गए। संबंधित अधिकारियों के अनुसार, मारे गए दोनों आतंकी हिजबुल मुजाहिदीन से संबंधित हैं। इनमें एक बेलु पुलवामा का रहने वाला लियाकत अहमद वानी है और दूसरा बबहारा गाव का वाजिद उल इस्लाम। आतंकियों के शव पोस्टमार्टम के बाद उनके परिजनों के हवाले कर दिए गए हैं। मारे गए आतंकियों के पास से एक एसाल्ट राइफल, एक इनसास राइफल और अन्य गोला बारूद के अलावा कुछ आपत्तिजनक दस्तावेज भी मिले हैं। बरामद इनसास राइफल को आतंकियों ने कुछ समय पहले मुरन पुलवामा में एक सुरक्षाकमर्मी से छीना था। इससे पूर्व गत रोज सुरक्षाबलों ने पुलवामा के त्राल में जैश के आतंकी अनवर को मार गिराया था। उसके अन्य साथी निकटवर्ती जंगल में भाग निकले थे, जिन्हें मार गिराने के लिए सुरक्षाबलों ने अपना अभियान जारी रखा हुआ है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप