राज्य ब्यूरो, श्रीनगर : उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने बिजली विभाग के अधिकारियों को एक सप्ताह के भीतर सर्दियों में आपात परिस्थितियों से निपटने की कार्ययोजना (विटर प्रिपेयर्डनेस प्लान) जमा कराने को कहा है। यह आदेश उपराज्यपाल ने शुक्रवार को सचिवालय श्रीनगर में आयोजित उच्चस्तरीय बैठक में सर्दियों के मौसम में बिजली व्यवस्था को दुरुस्त बनाए रखने की बिजली विभाग की तैयारियों का जायजा लेते हुए दिया।

उपराज्यपाल ने बिजली विभाग के अधिकारियों को ट्रांसफार्मर, बिजली के खंभे व अन्य आवश्यक साजो सामान की समय रहते खरीद पूरी करने और सभी इलाकों में विशेषकर सर्दियां के दौरान हिमपात के कारण प्रदेश के मुख्य शहरों व जिला मुख्यालयों स कटे रहने वाले इलाकों में वितरण करने को कहा। उन्होंने प्रदेश में निर्विघ्न रूप से बिजली आपूर्ति को सुनिश्चित बनाए रखने की जरूरत पर जोर देते हुए बिजली उपकरणों की खरीद के समय उनकी गुणवत्ता की जांच करने को भी कहा ताकि वह ज्यादा लंबे समय तक क्रियाशील रहें।

सिन्हा ने मीटर वाले इलाकों में अघोषित कटौती बंद करने का निर्देश देते हुए कहा कि लंबित सभी परियोजनाओं को जल्द पूरा किया जाए। प्रदेश में बिजली ट्रांसफार्मर खराब होने की दर बहुत ज्यादा है। इसे राष्ट्रीय औसत दर से नीचे लाने के लिए संबंधित अधिकारियों को प्रभावी योजना बनानी चाहिए।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस