नवीन नवाज, श्रीनगर : पाकिस्तानी सेना और उसकी खुफिया एजेंसी आइएसआइ ने जम्मू कश्मीर में हालात बिगाड़ने की एक नई साजिश रची है। इसके तहत कुख्‍यात तालिबानी आतंकियों को जम्‍मू कश्‍मीर में घुसपैठ कराने की तैयारी है। इन आतंकियों को पाकिस्‍तान की सेना ने विशेष तौर पर कश्‍मीर के माहौल के अनुरूप ट्रेनिंग भी दी है। इन्‍हें नियंत्रण रेखा से घुसपैठ कराने की तैयारी है ताकि जम्‍मू कश्‍मीर के भीतरी क्षेत्रों में आत्‍मघाती हमलों को अंजाम दे सके। उनकी घुसपैठ कराने के लिए अब नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर स्थित पाकिस्‍तानी सेना भारतीय ठिकानों पर गोलीबारी तेज की जाएगी। पुलवामा में आइईडी से लैस कार भी आइएसआइ की नई साजिश का ही एक हिस्सा बताया जा रहा है।

खुफिया सूत्रों ने बताया कि इस समय पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी जम्मू कश्मीर में सभी प्रमुख आतंकी कमांडरों के मारे जाने से पूरी तरह बौखला चुकी है। बीते एक साल के दौरान आतंकी कोई भी बड़ा हमला अंजाम नहीं दे पाए हैं। एलओसी पर सलगाने की साजिशों का भी उसे गंभीर खामियाजा भुगतना पड़ा है और हर बार उसे मुंह की खानी पड़ी है। बड़े कमांडरों के मारे जाने के बाद स्‍थानीय आतंकियों की भर्ती में भी काफी कमी आई है। इसलिए पाकिस्तानी सेना और उसकी खुफिया एजेंसी ने आतंकी सरगनाओं के साथ मिलकर जम्मू कश्मीर में दहशत फैलाने की नया ब्‍लू प्रिंट तैयार किया है। चूंकि सुरक्षाबल हर परिस्थिति में चौकस हैं, ऐसे में उनकी कोई साजिशें सफल नहीं हाे पा रही हैं।

उन्होंने बताया कि पाकिस्तानी सेना ने अब जम्मू कश्मीर में स्थानीय आतंकियों की भर्ती और ट्रेनिंग के साथ-साथ सनसनीखेज वारदात को अंजाम देने के लिए तालिबान आतंकियों का इस्तेमाल करने का फैसला किया है। करीब 20 तालिबानी आतंकियों को पाकिस्तानी सेना के स्पेशल सर्विस ग्रुप द्वारा अफगानिस्तान के जलालाबाद में कश्मीर के माहौल के अनुरूप विशेष ट्रेनिंग दी गई है। इन आतंकियों को अगले एक माह में तीन से चार गुटों में जम्मू कश्मीर में घुसपैठ कराने का खाका बुना जा रहा है।

गुरेज व मच्‍छल सेक्‍टर पर पहुंचे दुर्दांत आतंकीः सूत्रों ने बताया कि आतंकियों की घुसपैठ कराने के लिए उत्तरी कश्मीर में गुरेज सेक्टर के पार गुलाम कश्मीर में सरदारी पोस्ट पर पाकिस्तानी सेना ने करीब 15 आतकियों के दो गुटों को जमा किया है। मच्छल सेक्टर के पार भी केल व थाजियां में जैश-ए-मोहम्मद के सात से आठ आतंकियों के दो गुट एक सप्ताह से घुसपैठ का मौका तलाश रहे हैं। उन्होंने बताया कि पुंछ के सामने गुलाम कश्मीर के नटर इलाके में लश्कर के सात आतंकी अपने लांचिग पैड पर बीते दिनों पहुंचे हैं। इन आतंकियों के साथ मिलकर पाकिस्तानी सेना ने केजी सेक्टर में बैट कार्रवाई की साजिश भी रची है।

श्रीनगर के पंथाचौक और पांपाेर में आइईडी धमाके की साजिशः सूत्रों ने बताया कि पुलवामा में आइईडीसे लैस कार की बरामदगी आइएसआइ की नई साजिश का ही एक हिस्सा है। पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ने कश्मीर में आतंकी संगठनों को आत्मघाती हमले ठकरने का निर्देश दिया है। इसके अलावा उन्हें सुरक्षाबलों के शिविरों पर हमले करने और आइईडी धमाकों के जरिए सुरक्षाबलों के वाहनों को उड़ान के लिए कहा गया है। उन्होंने बताया कि पाकिस्तान में बैठे अपने आकाओं के इशारे पर आतंकी उत्तरी कश्मीर के सोपोर, कुपवाड़ा बाईपास, बारामुला हाइवे और बारामुला-हंदवाड़ा मार्ग पर हमला करने की फिराक में हैं। इसके अलावा श्रीनगर के बाहरी क्षेत्र पंथाचौक और पांपोर-बेमिना सेक्शन पर भी वाहनबम से हमला किए जाने साजिश है। सत्रों ने बताया कि अनंतनाग के बिजबेहाड़ा और कुलगाम के यारीपोरा में आतंकी सुरक्षाबलों की किसी चौकी या गश्तीदल पर हमले की साजिश कर रहे हैं।

दो वाहन बम और होंगेः सूत्रों के अनुसार अभी कश्‍मीर में पुलवामा जैसे दो और वाहन बम हो सकते हैं। इन वाहन बमों को लश्‍कर, हिजबुल ओर जैश ने मिलकर अपने पाकिस्‍तानी आकाओं के इशारे पर तैयार किया है। उन्‍हें बरामद करने के लिए सुरक्षाबल अभियान चला रहे हैं।

Posted By: Rahul Sharma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस