जम्मू, जेएनएन।  जम्मू-कश्मीर के राजौरी सेक्टर में पाकिस्तान ने एक बार फिर संघर्ष विराम का उल्लंघन किया है। पाकिस्तानी गोलाबारी में भारतीय सेना का एक जवान शहीद हो गया है। साथ ही एक नागरिक भी घायल हो गया है। बीती रात पाकिस्तान सेना ने राजौरी के तरकुंडी सेक्टर में भारी गोलाबरी की। शहीद जवान पंजाब के जिला गुरदासपुर का रहने वाला था।

भारतीय सेना ने भी पाक सेना को मुंह तोड़ जवाब दिया है। फिलहाल दोनों तरफ से गोलाबरी रुकी हुई है, लेकिन सीमा के करीब रहने वाले लोगों में डर बना हुआ है। बीती रात को पाक सेना ने 10 बजे के करीब गोलाबरी शुरू की जो सुबह 6 बजे तक जारी रही। देर रात शुरू हुई गोलाबीर, सुबह तक जारी रही।

गोलाबारी के कारण नियंत्रण रेखा से सटे इलाकों में रहने वाले ग्रामीणों में दहशत का माहौल व्याप्त हो गया है। रात लोगों ने बंकरों व सुरक्षित स्थानों पर ही बिताई। सुबह छह बजे के बाद जब गोलाबारी बंद हुई तो उसके काफी देर बाद ग्रामीण बंकर से बाहर निकले। अभी भी सेना ने लोगों को सतर्क रहने को कहा है। पाकिस्तान ने इस साल अब तक नियंत्रण रेखा और अंतरराष्ट्रीय सीमा पर कई बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया है।

पाक सेना की गोलाबारी में एक ग्रामीण जख्मी, तीन मवेशी मरे

पाकिस्तानी सेना ने सीजफायर का उल्लंघन करते हुए बुधवार को जम्मू संभाग के राजौरी जिले के उप जिला नौशहरा के कलाल, झंगड़, बाबा खोड़ी, कलसियां व तरकुंडी सेक्टर और पुंछ जिले के बालाकोट सेक्टर में भारी गोलाबारी की। नौशहरा सेक्टर के तरकुंडी में एक ग्रामीण जख्मी हुआ है। गोलाबारी से तीन मवेशियों की मौत हो गई और पांच मकानों को नुकसान पहुंचा। गोलाबारी से सीमा से सटे जंगलों में भीषण आग लग गई, जिस पर काबू पाने का प्रयास किया जा रहा है।

पाक सेना ने सुबह पहले नौशहरा सेक्टर में भारतीय सेना की अग्रिम चौकियों फिर रिहायशी क्षेत्रों को निशाना बनाकर गोलाबारी शुरू कर दी। पहले हल्के हथियारों से फायरिंग की फिर कुछ समय बाद 120 एमएम व 82 एमएम के मोर्टार दागने शुरू कर दिए। पाक सेना करीब दो घंटे तक गोलाबारी करती रही। लोगों ने बंकरों में शरण लेकर अपनी जान बचाई। जो बंकरों में नहीं पहुंच सके, वे घरों में छिपे बंद रहे। भारतीय सेना के जवानों ने भी मुंहतोड़ जवाब दिया, जिससे पाक सेना की चौकियों और रिहायशी क्षेत्रों में नुकसान पहुंचा।

इसी बीच पाक गोलाबारी से अजय कुमार पुत्र सोम राज के मवेशियों के शेड पर गोले गिरने से तीन मवेशियों की मौत हो गई। क्षेत्र के कुछ अन्य मकानों को भी नुकसान पहुंचा। सीमा से सटे जंगलों में आग लगने से पूरे क्षेत्र में धुआं फैल गया। आग पर काबू पाने के लिए दमकल व वन विभाग के कर्मचारी जुटे हुए हैं, लेकिन आग पर काबू नहीं पाया जा सका है। रात करीब नौ बजे पाक सेना ने पुंछ के बालाकोट व राजौरी के तरकुंडी सेक्टर में गोलाबारी शुरू कर दी।

पाक रेंजर्स ने हीरानगर सेक्टर के गांव को बनाया निशाना

पाकिस्तान रेंजर्स ने मंगलवार रात अंतरराष्ट्रीय सीमा से सटे कठुआ जिले के हीरानगर सेक्टर के गांव में गोलाबारी की। गोलाबारी से जानमाल का कोई नुकसान नहीं हुआ। पाक रेंजर्स ने पप्पू चक पोस्ट से भारतीय क्षेत्र के गांव करोल माथरियां को निशाना बनाकर रात दस बजे से साढ़े तीन बजे तक गोले दागे। गोलाबारी की आशंका से लोग पहले ही बंकरों में चले गए थे। बुधवार सुबह एसओजी व पुलिस कर्मियों ने गांव के आसपास तलाशी अभियान चलाया।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस