राज्य ब्यूरो, श्रीनगर : चार अगस्त से एहतियातन हिरासत में रखे जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री एवं नेशनल कांफ्रेंस के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला को हरि निवास सबजेल से 24 घंटे के भीतर गुपकार मार्ग पर स्थित उनके घर के पास ही स्थानांतरित कर दिया जाएगा। उन्हें एम-4 सरकारी गेस्ट हाउस में रखा जाएगा। गुपकार मार्ग अत्याधिक सुरक्षा वाला जोन है। जम्मू कश्मीर गृह विभाग ने इस स्थानांतरण को एक प्रशासनिक फैसला बताया है, लेकिन संबंधित सूत्रों की मानें तो यह कदम इसी सप्ताहंत विभिन्न केंद्रीय मंत्रियों के शुरू हो रहे जम्मू कश्मीर के दौरों के मद्देनजर उठाया है। वहीं, कुछ लोगों के मुताबिक, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी अगले माह भारत की यात्रा पर आने वाले हैं और तब तक कश्मीर में राजनीतिक गतिविधियों को सामान्य रूप से बहाल करने की दिशा में कदम उठाते हुए ही उमर अब्दुल्ला को उनके घर के पास लाया जा रहा है।

संबंधित अधिकारियों ने बताया पूर्व मुख्यमंत्री को जिस सरकारी गेस्ट हाउस में रखा जाएगा है, वह उमर के पिता डॉ. फारूक अब्दुल्ला के निवास और उनके अधिकारिक निवास से चंद कदम की दूरी पर है। इसी गेस्ट हाउस से कुछ दूरी पर उनके चाचा मुस्तफा कमाल का घर है। उमर अब्दुल्ला को इस गेस्ट हाउस में भी जेल मैन्युल के मुताबिक ही सुविधाएं मिलेंगी। संभवत: उन्हें वीरवार यानी आज ही यहां स्थानांतरित किया जाएगा। सरकार सामान्य बना रही हालात

अधिकारियों ने कहा कि उमर अब्दुल्ला को गुपकार मार्ग पर स्थानांतरित करना सही कदम है। इससे समझा जा सकता हैं कि सरकार हिरासत में रखे नेताओं को दूर रखकर बीच का रास्ता अपनाते हुए हालात सामान्य बनाने की दिशा में काम कर रही है। परिस्थितियों के अनुकूल रहने पर उमर अब्दुल्ला, महबूबा मुफ्ती और डॉ. फारूक अब्दुल्ला यानी तीनों पूर्व मुख्यमंत्रियों को रिहा भी किया जा सकता है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस