राज्य ब्यूरो, श्रीनगर : उत्तरी कश्मीर के बांडीपोर में शुक्रवार तड़के लश्कर-ए-तैयबा के आतंकियों ने पंचायत घर के एक ब्लॉक कार्यालय की इमारत को आग लगा दी। क्षतिग्रस्त इमारत में लश्कर के पोस्टर भी मिल हैं, जिनमें लोगों को आगामी पंचायत चुनावों से दूर रहने का फरमान सुनाते हुए कहा गया है कि अगर किसी ने इसमें हिस्सा लिया तो वह अपने अंजाम का खुद जिम्मेदार होगा।

जानकारी के अनुसार, तड़के करीब तीन बजे अलूसा, बांडीपोर में स्थानीय लोगों ने पंचायत घर में एक जोरदार धमाके की आवाज सुनी और उसके बाद ही वहां स्थित ब्लॉक कार्यालय की इमारत में आग की लपटें निकलने लगीं। इससे लोगों में दहशत फैल गई। आग की सूचना मिलते ही पुलिस और दमकल कर्मी मौके पर पहुंच गए और उन्होंने आग पर काबू पाने का प्रयास किया, लेकिन जब तक आग पर काबू पाया गया तब तक ब्लॉक कार्यालय का अधिकांश हिस्सा और वहां रखे दस्तावेज जल हो गए थे। यह आग सूर्योदय के बाद ही पूरी तरह बुझी।

सुबह क्षतिग्रस्त इमारत की जांच की गई तो वहां शौचालय के दरवाजे पर आतंकी संगठन लश्कर का एक पोस्टर चिपका हुआ पाया गया। इसमें लिखा था कि सभी लोगों से गुजारिश है कि वह आगामी पंचायत चुनावों में हिस्सा न लें। अगर कोई प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से इन चुनावों में शामिल हुआ तो उसे कठोर सजा दी जाएगी। इस पोस्टर में आगे लिखा हुआ था कि बीते कुछ दिनों से इस ब्लॉक में चुनाव प्रचार संबंधी गतिविधियां तेजी से चल रही हैं और ब्लाक के अधिकांश कर्मचारी इस काम में लगे हुए हैं। यह सभी के लिए अंतिम चेतावनी है। लश्कर के लेटरहेड पर बने इस पोस्टर में जिला कमांडर लश्कर बांडीपोर की मुहर भी लगी हुई थी। वहीं पुलिस ने कहा कि अभी पोस्टर की सच्चाई का पता लगाया जा रहा है। यह किसी की शरारत भी हो सकती है।

Posted By: Jagran