राज्य ब्यूरो, श्रीनगर : पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व सांसद महबूब बेग ने मंगलवार को प्रधानमंत्री के कश्मीर संबंधी बयान का स्वागत किया। उन्होंने उम्मीद जताई कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी के दिखाए मार्ग पर चलेंगे।

महबूब बेग ने कहा कि हम सभी को यह बात समझ लेनी चाहिए कि पड़ोसी के साथ टकराव किसी के हित में नहीं है। सभी विवादों के हल के लिए बातचीत ही एकमात्र रास्ता है। एनडीए के कार्यकाल में सौहार्द और बातचीत का रास्ता ही अपनाया गया। राज्य में तत्कालीन मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद ने उन प्रयासों के सहारे ही शांति व स्थिरता का माहौल बनाया, जिससे जम्मू कश्मीर व गुलाम कश्मीर के बीच रास्ते खुले। तत्कालीन उप प्रधानमंत्री लाल कृष्ण आडवाणी ने हिजबुल मुजाहिदीन से बातचीत की। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने सभी विवादों को हल करने की इच्छा जताई और पाकिस्तान के तत्कालीन राष्ट्रपति जनरल परवेज मुशर्रफ ने भी सकारात्मक रवैया अपनाया। उन्होंने चार सूत्री फार्मूला दिया था और अटल बिहारी वाजपेयी भी इस पर कथित तौर पर राजी हो गए थे, लेकिन उस समय जल्द राजनीतिक परिदृश्य बदलने से इस मुद्दे पर बात आगे नहीं बढ़ी।

उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी और इमरान खान को इतिहास से सबक लेते हुए वाजपेयी-मुशर्रफ के प्रयासों और एनडीए प्रथम द्वारा अपनाए गए रास्ते पर आगे बढ़ना चाहिए। कश्मीर में अस्थिरता और पीड़ा का यह दौर समाप्त होना चाहिए। नरेंद्र मोदी और इमरान खान दोनों को जनादेश प्राप्त है। उन्हें कश्मीर समस्या को हल करने की दिशा में आगे बढ़ना चाहिए।

Posted By: Jagran