श्रीनगर, एएनआइ। पाकिस्तान ने एक बार फिर सीजफायर का उल्लंघन किया है। जम्मू और कश्मीर के पुंछ जिले के मनकोट सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास पाकिस्तान ने संघर्ष विराम का उल्लंघन कर गोलीबारी की है।  इसका भारतीय सेना ने भी मुंहतोड़ जवाब दिया। पाकिस्तान की ओर से हुई गोलाबारी में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है।  बता दें, इस महीने कई बार पाकिस्तान ने सीजफायर का उल्लंघन किया है।

भारत की जवाबी कार्रवाई में पाक में भारी तबाही

हर बार मुंह की खाने के बाद भी पड़ोसी मुल्क सुधर नहीं रहा। पाकिस्तानी सेना ने मंगलवार के बाद बुधवार रात  भी फिर एलओसी पर उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा में अग्रिम इलाकों में स्थित भारतीय सैन्य व नागरिक ठिकानों पर गोलाबारी की। इससे चार मकान क्षतिग्रस्त हो गए। भारतीय जवानों की जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तान को भारी नुकसान हुआ है। देर रात तक जारी रही जवाबी कार्रवाई में सीमा पार कई इमारती ढांचे पूरी तरह तबाह हो गए।

वहीं, अंतरराष्ट्रीय सीमा पर कठुआ जिले के हीरानगर सेक्टर में पाकिस्तान ने मंगलवार रात को भी संघर्ष विराम का उल्लंघन किया। पाकिस्तानी रेंजरों ने बीएसएफ की चौकियों और रिहायशी इलाकों छन्न लालदीन, ठगली आदि गांवों को निशाना बनाकर गोले दागे। हालांकि, यहां कोई नुकसान नहीं हुआ है। हीरानगर सेक्टर में पाकिस्तान पिछले दो महीने से लगातार रात को गोलाबारी कर रहा है। पाकिस्तानी सेना ने सुबह कुपवाड़ा में एलओसी के साथ करनाह व टंगडार सेक्टर में अग्रिम नागरिक व सैन्य ठिकानों को निशाना बनाते हुए तोपों और मोर्टार से गोले दागे।

पाकिस्तानी सेना ने इन दोनों सेक्टरों में बडाना मोहल्ला, अपर नीचियां और हंडवाला समेत पांच अग्रिम बस्तियों और सैन्य चौकियों को निशाना बनाया। रिहायशी इलाकों में गोले गिरने से लोग निकटवर्ती बंकरों और सुरक्षित स्थानों पर चले गए। गोलाबारी में चार मकानों को नुकसान पहुंचा है। गांवों में गिरे कई गोले नहीं फटे नहीं हैं, जिसके चलते लोगों में डर है।

पाकिस्तानी सेना द्वारा दागे गए तीन गोले एक अग्रिम चौकी से करीब 50 फीट की दूरी पर गिरे। हालांकि, इससे कोई नुकसान नहीं हुआ। देर रात पाक ने फिर गोलाबारी की। जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तान को भारी नुकसान उठाना पड़ा।

सैन्य अधिकारियों को अलर्ट किया :

सूत्रों ने बताया कि करनाह और टंगडार में पाकिस्तानी सेना द्वारा जंगबंदी के उल्लंघन को देखते हुए पूरे उत्तरी कश्मीर में सभी अग्रिम इलाकों में तैनात सैन्य अधिकारियों को अलर्ट कर दिया गया है। उन्हें अपने इलाकों में चौकसी बढ़ाने और दुश्मन की किसी भी हरकत पर तुरंत कार्रवाई का निर्देश दिया गया है। अधिकारियों के मुताबिक, पाकिस्तानी सेना इस समय ज्यादा से ज्यादा आतंकियों को कश्मीर में घुसपैठ कराना चाहती है, इसलिए वह अग्रिम इलाकों में जंगबंदी का उल्लंघन कर रही है ताकि भारतीय जवानों का ध्यान भटकाया जा सके।

शोपियां में आतंकी देखे जाने पर चला कासो

शोपियां के मडडूरा में बुधवार देर शाम को सेना ने आतंकियों की तलाश में घेराबंदी एवं तलाशी अभियान (कासो) चलाया। सेना को खुफिया सूचना मिली कि कुछ आतंकी शोपियां के मडडूरा क्षेत्र में आए हैं। इसके बाद तुरंत सेना के जवानों ने क्षेत्र को घेर लिया। सभी रास्ते बंद कर दिए गए। देर रात तक आतंकियों को कोई सुराग नहीं लगा था। बावजूद कासो जारी रहा। 

Posted By: Preeti jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस