श्रीनगर,जागरण संवाददाता। जम्मू-कश्मीर में आतंकी गतिविधियों में लगातार बढ़ोतरी हुई है। आतंकियों के खिलाफ सुरक्षाबलों का अभियान लगातार जारी है। बताया जा रहा है कि सुरक्षाबलों को रेबन इलाके में आतंकवादियों के छिपे होने की सूचना मिली थी। अब मिल रही ताजा जानकारी के अनुसार, अब पांच आतंकियों के मारे जाने की सूचना है। मुठभेड़ को लेकर किसी तरह की अफवाह न फैले इसके लिए प्रशासन ने मोबाइल इंटरनेट सेवा को अस्थायी रूप से बंद कर दिया है।

कश्मीर के इंस्पेक्टर जनरल आॅफ पुलिस विजय कुमार ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि मुठभेड़ में पांच आतंकवादियों को मार गिराने में सफलता मिली है लेकिन अभी इनकी पहचान की जाना बाकी है। एेसा भी संभावना व्यक्त की जा रही है इन मारे गए पांच आतंकवादियों में एक टाप कमांडर भी ढेर हो गया है।

बता दें कि सुरक्षाबलों को सूचना मिली कि दक्षिण कश्मीर में शोपियां जिले के रेबन गांव में आतंकी छिपे हैं। सूचना के आधार पर सेना की 1-आरआर, सीआरपीएफ की 178 बटालियन और एसओजी के जवानों ने इलाके की घेराबंदी करनी शुरू की। खुद को घिरा देख आतंकियों ने सुरक्षाबलों को निशाना बनाना शुरू कर दिया। जवानों ने मोर्चा संभालने से पहले आतंकियों से समर्पण करने की बात भी कही। लेकिन आतंकी सुरक्षाबलों को निशाना बनाते रहे। इसके बाद जवानों ने मोर्चा संभाला आैर सभी पांचों आतंकवादियों को मार गिराया।

जानकारी के मुताबिक शोपियां के रेबन इलाके में आतंकियों के छिपे होने की सूचना सुरक्षाबलों को मिली थी, जिसके बाद सेना, सेंट्रल पुलिस फोर्स की 178 बटालियन, राष्ट्रीय राइफल और स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप ने ज्वाइंट ऑपरेशन शुरू कर दिया।  रक्षाबलों की संयुक्त टीम जब संदिग्ध स्थान पर पहुंची तो छिपे हुए आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी। वहीं सुरक्षाबलों ने भी जवाबी कार्रवाई में फायरिंग की और फिर मुठभेड़  शुरू हो गया। सूत्रों के मुताबिक, दो से तीन आतंकियों के फंसे होने की आशंका है। मौके पर सुरक्षाबलों और पुलिस की टीमें मौजूद हैं। घेराबंदी कर आतंकियों से सरेंडर करने के लिए कहा जा रहा है। हालांकि आतंकियों ने सरेंडर करने की बजाए फायरिंग शुरू कर दी है।

बता दें कि पिछले कुछ दिनों से घाटी में आतंकी गतिविधियां तेजी से बढ़ गई है। आतंकियों की घुसपैठ बढ़ रही है तो वहीं सेना ने भी अपनी मुस्तैदी से उनके मंसूबों पर पानी फेर दिया है। इससे पहले ही जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ में जैश-ए-मोहम्मद के तीन आतंकवादी मारे गए।

दोनों तरफ से चल रही गोलियां

कश्मीर पुलिस की मानें तो आतंकियों की ओर से फायरिंग शुरू होने के बाद सुरक्षाबलों ने भी फायरिंग शुरू कर दी है। अब दोनों ओर से गोलियां चल रही हैं। जिस तरह से पुलिस और सुरक्षाबलों पर ताबड़तोड़ गोलियां चलाई जा रही हैं उससे साफ है कि इलाके में दो से ज्यादा आतंकी छिपे हो सकते हैं।

जानकारी हो कि बारामूला जिले में शनिवार को आतंकवादियों ने एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी थी। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि आतंकवादियों ने अश्फाक अहमद नजर के उत्तरी कश्मीर के बोमई इलाके के आदिपुरा में स्थित घर पर रात करीब 9 बजकर 30 मिनट पर हमला किया। उन्होंने कहा कि हमले में नजर घायल हो गया। उसे अस्पताल ले जाया गया, लेकिन वहां पहुंचने से पहले ही उसकी मौत हो चुकी थी। पुलिस ने मामला दर्ज कर हत्यारों की तलाश कर रही है। 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस