राज्य ब्यूरो, जम्मू : जम्मू कश्मीर कांग्रेस की प्रभारी रजनी पाटिल ने उपराज्यपाल प्रशासन से कहा है कि जम्मू में बारिश, ओलावृष्टि और बर्फबारी से तबाह हुई फसलों और फलों के नुकसान का मुआवजा दिया जाए। उन्होंने बारिश और बर्फबारी से जानमाल के नुकसान पर चिता जताते हुए शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना भी जताई। उन्होंने किसानों को निश्शुल्क बीज और खाद दिए जाने की मांग की।

जम्मू कश्मीर के पांच दिवसीय दौरे पर मंगलवार शाम को जम्मू पहुंची रजनी पाटिल ने प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रधान जीए मीर व वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की। कांग्रेस ने केंद्रीय गृह मंत्री के बयान को नामंजूर करते हुए कहा कि चुनाव से पहले जम्मू कश्मीर के राज्य का दर्जा बहाल किया जाए। वहीं अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय कार्यक्रम की जानकारी दी गई, जिसमें देश की स्वतंत्रता के 75 वर्ष पूरे होने पर जनजागरण अभियान चलाया जाना है। इसके माध्यम से अधिक से अधिक लोगों तक पहुंच बनाई जाएगी। बैठक में रजनी पाटिल ने कहा कि देश भर में अगले महीने से सदस्यता अभियान चलाया जाएगा। यह फैसला हाल ही में कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में लिया गया है। पार्टी सदस्यों ने जम्मू कश्मीर में जनाधार को मजबूत करने पर भी विचार विमर्श किया। पार्टी नेताओं ने हाल ही में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के जम्मू-कश्मीर में जल्द चुनाव करवाए जाने व बाद में राज्य का दर्जा बहाल करने के बयान की आलोचना की। नेताओं ने कहा कि जम्मू कश्मीर के राज्य का दर्जा बहाल करने के बाद ही चुनाव करवाए जाएं।

बैठक में तारिक हमीद करा, पूर्व उपमुख्यमंत्री ताराचंद, मूलाराम, रमण भल्ला, रविदर शर्मा, बलवान सिंह, अब्दुल मजीद वानी, अशोक शर्मा, शिवदेव सिंह, मनमोहन सिंह, शबीर अहमद खान, केसी भगत, अशोक डोगरा, उदय चिब मौजूद रहे।

Edited By: Jagran