राज्य ब्यूरो, श्रीनगर : राज्य सरकार ने सोमवार को आंगनवाड़ी वर्करों के मासिक मानदेय में 500 रुपये और आंगनवाड़ी सहायकों के मासिक मानदेय में 400 रुपये की बढ़ोतरी की है। राज्य समाज कल्याण विभाग ने राज्यपाल एनएन वोहरा द्वारा इस संदर्भ में जारी एक निर्देश के तहत यह फैसला लिया है। राज्य में आंगनवाड़ी केंद्रों की भी समग्र समीक्षा होगी और इसके पूरा होने तक इन केंद्रों में कोई नयी नियुक्ति भी नहीं होगी।

समाज कल्याण विभाग के सचिव डॉ. फारूक अहमद लोन ने बताया कि आंगनवाड़ी वर्करों का मासिक मानदेय 3600 रुपये से बढ़ाकर 4100 रुपये और आंगनवाड़ी सहायकों का मासिक मानदेय 1800 रुपये से बढ़ाकर 2200 रुपये कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि यह बढ़ोतरी लंबे समय से जारी मांग को पूरा करने में सहायक साबित होगी। उन्होंने बताय कि राज्यपाल प्रशासन ने भारत सरकार के नियमों के परिदृश्य में जम्मू कश्मीर में मौजूदा आंगनवाड़ी केंद्रों का समग्र जायजा लेने का फैसला किया है। इस समीक्षा में मौजूदा किसी गांव अथवा मोहल्ले में स्थित आंगनवाड़ी केंद्रों की स्थिति, दो निकटतम केंद्रों में दूरी, केंद्रों में दाखिल बच्चों की संख्या, भविष्य की जरूरतों व अन्य संबंधित मुद्दों को शामिल किया जाएगा। यह समीक्षा वित्त विभाग द्वारा समाज कल्याण विभाग के समन्वय में की जाएगी। इस समीक्षा के पूरे होने तक आंगनवाड़ी केंद्रों में कोई नयी नियुक्ति नहीं होगी। यहां यह बताना असंगत नहीं होगा कि इस समय पूरे राज्य में 32,960 आंगनवाड़ी केंद्रों में 29,599 केंद्र ही क्रियाशील हैं।

Posted By: Jagran