राज्य ब्यूरो, श्रीनगर: नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) अमिताभ कांत ने शुक्रवार को जम्मू कश्मीर में एक हजार स्कूलों में अटल नवप्रवर्तन मिशन (एआइएम) के तहत अटल टिकरिग लैब्स (एटीएल) स्थापित करने का एलान किया। इसके लिए जम्मू और कश्मीर में 500-500 स्कूल जल्द चिन्हित करने के लिए कहा। इस पहल से छात्रों के बीच रचनात्मकता, नवाचार और खोज करने की भावना विकसित होगी। अमिताभ कांत प्रदेश के चार दिवसीय दौरे पर श्रीनगर पर पहुंचे हैं। जम्मू कश्मीर के मुख्य सचिव डा. अरुण कुमार मेहता की मौजूदगी में उन्होंने वीरवार को प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने कहा कि डिजिटल और गो ग्रीन की व्यवस्था को पूरी तरह अपनाने वाले राष्ट्र और राज्य ही भविष्य में आर्थिक-सामाजिक रूप से खुशहाल व मजबूत होंगे। पूरे देश में डिजिटल और गो ग्रीन की व्यवस्था को पूरी तरह अपनाने में जम्मू कश्मीर ही सबसे ज्यादा समर्थ है। जम्मू कश्मीर इसके लिए एक ब्रांड वैल्यू भी तैयार कर सकता है। उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर डिजिटल और गो ग्रीन के लक्ष्य को तेजी से प्राप्त करे, इसके लिए एक स्पष्ट और प्रभावकारी कार्ययोजना जरूरी है। अमिताभ ने कहा कि प्रत्येक क्षेत्र में किसी भी गतिविधि का अपना एक परिणाम और असर होता है। इस पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है। उन्होंने जियो टैगिंग, रियल टाइम डाटा को प्राप्त करना योजनाओं की निगरानी और उनकी प्रगति के आकलन में सहायक है। पर्यटन क्षेत्र का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा दीर्घकालिक विकास और वृद्धि के लिए पूरी पारदर्शिता और स्पर्धात्मक भावना के साथ निजी क्षेत्र की भागीदारी जरुरी है। आकांक्षी ब्लाक और सतत विकास के लक्ष्य के बारे में उन्होंने कहा कि इन दोनों क्षेत्रों में आगे बढ़ने के लिए नीति आयोग का जम्मू कश्मीर सरकार के साथ द्विपक्षीय संबंध रहेगा।

Edited By: Jagran