संवाद सहयोगी, सुंदरबनी : पीएचई विभाग कार्यरत कर्मचारियों को 52 माह से वेतन नहीं मिला है। आर्थिक तंगी से जूझ रहे इनकर्मचारियों की समस्या दिन ब दिन बढ़ती जा रही है। राज्य प्रशासन उनकी वेतन संबंधी समस्या सुनने को तैयार नहीं है।

कर्मचारियों में पीएचई विभाग के खिलाफ जमकर प्रदर्शन करते हुए चेतावनी दी कि आगे उनकी समस्या का निस्तारण नहीं हुआ तो वह विभाग के खिलाफ कड़ा रूख अपनाने को तैयार होंगे।

सोमवार को पीएचई वेलफेयर एसोसिएशन के बैनर तले बैठक की अध्यक्षता करते हुए एसोसिएशन के प्रधान सोमदत्त शर्मा ने कहा कि अस्थाई कर्मचारियों को पिछले 52 माह से वेतन नहीं मिला है। जिससे उन पर आíथक संकट मंडरा रहा है। न ही उनके लिए रोजगार की कोई नीति बन पाई है।  इससे वह पूरी तरह से असमंजस में पड़े हैं। अस्थाई तौर पर लगे कर्मचारियों को दो दशक से ज्यादा हो गए हैं। अभी तक उन्हें पक्का नहीं किया गया है। कर्मचारियों ने 52 माह का बकाया वेतन जारी करने की मांग की।

Posted By: Jagran