संवाद सहयोगी, नौशहरा : कंगोटा गांव में जल शक्ति विभाग द्वारा बनाए गए टैंक से पानी लीक होने के मामले में गांव के ग्रामीणों ने विभाग एवं ठेकेदार के खिलाफ प्रदर्शन किया। इस दौरान उन्होंने टैंक निर्माण कार्य की उच्च स्तरीय जांच करने की मांग की। जानकारी के अनुसार कंगोटा गांव के निवासियों ने वीरवार को जल शक्ति विभाग एवं ठेकेदार के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया और आरोप लगाते हुए कहा कि गत चार माह पूर्व कंगोटा गांव में बनाया गया टैंक जिसकी क्षमता सात हजार गैलन है को तैयार करने में ठेकेदार द्वारा घटिया निर्माण सामग्री का उपयोग किया गया है। जिस कारण टैंक से पानी लीक हो रहा है। वीरवार को बीडीसी चेयरमैन सेरी निना शर्मा सरपंच अनिता देवी एवं गांव के लोग जब इकट्ठा होकर पानी सप्लाई करने गए तो देखा कि वहां पर टैंक से पानी लीक हो रहा था। ग्रामीण इसको देखते ही भड़क उठे और उन्होंने विभाग के खिलाफ प्रदर्शन शुरू कर दिया। लोगों का कहना था कि गत 70 वर्षों से उन्हें पानी नहीं मिला था अब जबकि पानी की लाइनें जोड़ दी गई हैं जब पानी सप्लाई करने की बारी आई है तो टैंक हर जगह से टपक रहा है और हजारों लीटर पानी व्यर्थ बह रहा है। ग्रामीणों ने इसकी उच्च स्तरीय जांच करने की मांग करते हुए कहा इस निर्माण कार्य में घटिया निर्माण कार्य का उपयोग किया गया है। इस मामले की जांच करवाई जाए और ठेकेदार के साथ साथ जल शक्ति विभाग के अधिकारियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई को अमल में लाया जाए।