संवाद सहयोगी, कालाकोट : डीडीसी सदस्य कालाकोट अनीता ठाकुर ने बरसात के इस मौसम में घर के आस-पास व खेतों में फलदार और अन्य पौधे रोपित करते हुए आवाम को एक संदेश दिया कि सभी लोग बरसात के सीजन में अधिक से अधिक पौधे रोपित करें, जिससे हरियाली के साथ-साथ पर्यावरण भी सुरक्षित बना रहे।

उन्होंने कहा कि पेड़ हमारे जीवन का अहम हिस्सा हैं। ये पेड़ हमें साफ-सुथरी हवा देने में अहम भूमिका निभाते हैं और पर्यावरण को संतुलित रखते हैं। उन्होंने कहा कि सभी लोगों को चाहिए कि वे अपने घरों के आसपास खाली पड़ी जगहों व खेतों में फलदार पौधों के अलावा छायादार पौधे लगाएं, ताकि हम शुद्ध हवा में सांस ले सकें। वहीं, डीडीसी सदस्य ने यह भी कहा कि सभी लोगों को आज यह सोचने और समझने की जरूरत है कि पेड़-पौधों, जंगलों पर ही हमारा जीवन टिका है और हमें इनकी देखभाल के साथ-साथ अधिक से अधिक पौधे रोपित कर पर्यावरण को सुरक्षित बनाए रखना होगा, ताकि हमारे जीवन व हमारी आने वाली पीढ़ी पर पर्यावरण संकट से दुष्प्रभाव न पड़े। उन्होंने कहा कि आज पेड़ों की अंधाधुंध कटान चोरी-छिपे हो रही है। पौधे तो रोपित किए जा रहे हैं, लेकिन उनकी देखभाल सही ढंग से नहीं की जा रही है। इससे लगाए गए पौधे बड़े नहीं हो पाते हैं। वे या तो सूख जाते हैं, या उन्हें मवेशी या लोग नुकसान पहुंचा कर नष्ट कर देते हैं। हमें पेड़-पौधों को अपना मित्र समझना चाहिए। क्योंकि ये पेड़ रहेंगे, तभी हमारा जीवन रहेगा। बिना पेड़-पौधों के हमारा जीवन सुरक्षित नहीं रहेगा।

Edited By: Jagran