जागरण संवाददाता, राजौरी : पाकिस्तानी सेना नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर युद्ध जैसे हालात पैदा कर रही है। वीरवार को पाक सेना ने पुंछ जिला में अधिक से अधिक नुकसान पहुंचाने के लिए तोपों से गोले दागे। वहीं, राजौरी जिला में पाक सेना की गोलाबारी में सरकारी स्कूल की इमारत के साथ चार मकानों व बिजली के कई खंभों को नुकसान पहुंचा, जिससे क्षेत्र में बिजली की सप्लाई ठप हो गई। भारतीय सेना के जवानों ने भी गोलाबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया।

पाक सेना पुंछ जिला के बालाकोट, मनकोट, मेंढर, शाहपुर, किरनी सेक्टर में वीरवार देर शाम हाई एक्सप्लोसिव तोपों के गोले दागे। पाक सेना चार दिनों से लगातार गोलाबारी कर रही है। इस दौरान पाक सेना तोप के गोले भी दाग रही है। अभी तक तोप के गोले लोगों के घरों से दूर गिर रहे हैं, जिससे कोई नुकसान नहीं हुआ।

पाक सेना ने बुधवार देर रात राजौरी जिला के मंजाकोट, तरकुंडी व भिंबर गली सेक्टर में भी गोलाबारी शुरू कर दी, जो वीरवार सुबह तक जारी रही। गोलाबारी में तरकुंडी से लेकर बीजी तक 20 किलोमीटर का इलाका प्रभावित हुआ। कई रिहायशी क्षेत्रों में भी नुकसान हुआ। 40 से अधिक 120 एमएम के मोर्टार सीमा से सटे गांव लंबी बाड़ी में गिरे। यह गोले सीमा से दो से तीन किलोमीटर दूर गिर रहे थे। हालांकि एक गोला मुहम्मद जमील के घर के ऊपर आकर गिरा, जिससे उसका मकान क्षतिग्रस्त हो गया, लेकिन परिवार के सदस्य बाल-बाल बच गए। गोलाबारी में मिडिल स्कूल लंबी बाड़ी की इमारत क्षतिग्रस्त हो गई। स्कूल के ऊपर भी पाक सेना के 120 एमएम के मोर्टार गिरे, जिससे स्कूल की इमारत और तीन अन्य घरों को नुकसान पहुंचा। गोलाबारी से बिजली के कई खंभे भी क्षतिग्रस्त हो गए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस