पुंछ, जेएनएन: भारतीय जवानों से बार-बार मुंह की खाने के बाद भी पाकिस्तानी सैनिक बाज नहीं आ रहे हैं। जिला राजौरी में गत वीरवार को सीजफायर उल्लंघन के जवाब में दस चौकियां ध्वस्त होने, मेजर सहित पांच जवानों के मारे जाने के बाद भी सबक न लेते हुए आज शुक्रवार को पाकिस्तानी सैनिकों ने अब जिला पुंछ में नियंत्रण रेखा से सटे कस्बा और किरनी सेक्टरों में गोलाबारी शुरू कर दी है। शाम 4 बजे के करीब पाक सैनिकों ने सबसे पहले भारतीय चौकियों को निशाना बनाते हुए हल्की गोलीबारी की परंतु जैसे ही जवाब में भारतीय जवानों ने भी गोलीबारी शुरू की तो पाक सैनिकों ने चौकियों के साथ-साथ कस्बा और किरनी के रिहायशी इलाकों को निशाना बनाते हुए मोर्टार दागना शुरू कर दिए हैं।

भारतीय जवान इस गोलाबारी का मुंहतोड़ जवाब दे रहे हैं। अभी भी दोनों ओर से गोलाबारी जारी है। सेना ने नियंत्रण रेखा से सटे इलाकों में अलर्ट जारी कर दिया है। लोगों को सुरक्षित इलाकों में रहने की हिदायत दी गइ है। अभी तक किसी तरह के जानमाल के नुकसान की भी कोइ सूचना नहीं है।

जिला राजौरी एलओसी पर गोलाबारी में 10 पाकिस्तानी चौकियां ध्वस्त, 5 जवान मारे गएः  पाकिस्तानी सेना को नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर नापाक हरकत फिर भारी पड़ी। पाक सेना ने राजौरी जिले के तरकुंडी सेक्टर में भारी गोलाबारी की, जिसमें भारतीय सेना का नायक शहीद और सेना का जवान व घर छुट्टी पर आया पुलिस का एक कर्मी घायल हो गया। भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई में पाक सेना की 10 चौकियां पूरी तरह नष्ट हो गई। पाक सेना के एक मेजर रैंक के अधिकारी सहित पांच सैनिकों के मारे जाने की सूचना है।

जानकारी के अनुसार, बुधवार रात करीब दस बजे पाक सेना ने राजौरी के तरकुंडी सेक्टर में भारी गोलाबारी शुरू कर दी। पाकिस्तान ने भारतीय सेना की अग्रिम चौकियों को निशाना बनाने के साथ रिहायशी क्षेत्रों को निशाना बनाकर मोर्टार दागना शुरू कर दिए। इसी दौरान एक मोर्टार सेना की चौकी पर आकर गिरा, जिसमें नायक गुरुचरण सिंह निवासी हरचोवाल, गुरदासपुर (पंजाब) शहीद हो गया। इस दौरान सेना का एक जवान और घर छुट्टी पर आया पुलिस का जवान निमायतुल्ला पुत्र फैल हुसैन भी घायल हो गया। पाक गोलाबारी में नक्का पंजग्राई, नक्का, तरकुंडी में चार मवेशी मारे गए और कुछ मकानों को भी नुकसान पहुंचा।

इसके बाद भारतीय सेना ने कड़ी जवाबी कार्रवाई कर सीमा पार कहाविलियन, नाली और सम्हानी सेक्टर में पाक सेना की 10 चौकियां पूरी तरह से तबाह कर दी। इस कार्रवाई में पाक सेना के पांच जवान ढेर हो गए, जिनमें एक मेजर रैंक का अधिकारी भी शामिल है। इसके अलावा दो से तीन जवान घायल भी हुई है।

इस बीच, वीरवार सुबह शहीद नायक का पार्थिव शरीर मेडिकल कॉलेज राजौरी लाया गया। जहां पोस्टमार्टम करवाने के बाद पाॢथव शरीर को सैन्य अस्पताल लाया गया। जहां पर सेना के अधिकारियों ने शहीद को श्रद्धांजलि अॢपत की उसके बाद सेना के विमान से शव को पंजाब रवाना कर दिया गया।

अड़ियल पाक ने रात को मनकोट सेक्टर में की गोलाबारीः  मुंह की खाने के बाद पाक सेना ने देर शाम पुंछ जिले की मेंढर तहसील के मनकोट सेक्टर में गोलाबारी शुरू कर दी, जो रात तक जारी रही। कई गोले गांवों में भी गिरे, जिससे दहशत फैल गई। भारतीय सेना ने भी पाकिस्तान को कड़ा जवाब दिया। रात तक दोनों तरफ से गोलाबारी जारी रही।

अंतरराष्ट्रीय सीमा पर हीरानगर के गांवों में भी पाक गोलाबारीः जम्मू संभाग के कठुआ के हीरानगर सेक्टर में अंतरराष्ट्रीय सीमा (आइबी) पर पाकिस्तान आतंकियों की घुसपैठ कराने के लिए बार-बार गोलाबारी कर रहा है। बुधवार रात से वीरवार तड़के तक पाक रेंजरों ने करोल माथरियां, करोल कृष्णा गांवों में भारी गोलाबारी की। बीएसएफ की 19 बटालियन जवानों ने मुंहतोड़ जवाब दिया। सुबह पुलिस के विशेष अभियान दल (एसओजी) तथा चकड़ा पुलिस ने क्षेत्र में तलाशी अभियान चलाया। 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस