जागरण संवाददाता, राजौरी : जिले के डूंगी ब्लाक के झलास के जंगल में भीषण आग लगने से लाखों रुपये की वन संपदा जलकर राख हो गई। इस आग पर काबू पाने के लिए दमकल कर्मी लगातार जुटे हुए हैं, लेकिन आग पर काबू अभी भी नहीं पाया गया है।

जानकारी के अनुसार रविवार को दोपहर बाद जंगल में आग लग गई। उसी समय वन विभाग के कर्मी व आसपास के लोगों ने आग पर काबू पाने का प्रयास शुरू कर दिया, लेकिन आग तेजी से फैलनी लगी। उसके बाद स्थानीय लोगों ने दमकल स्टेशन राजौरी को सूचित किया। सूचना मिलते ही दमकल कर्मी मौके पर पहुंच गए और आग पर काबू पाने का कार्य शुरू कर दिया, लेकिन आग अभी बुझी नहीं है।

वहीं, इस संबंध में बात करने पर दमकल स्टेशन राजौरी के प्रभारी मुहम्मद मकबूल का कहना है कि सूचना मिलते ही हमने अपने जवानों को मौके पर भेज दिया, लेकिन अभी तक आग पर काबू नहीं पाया गया है। आग पर काबू पाने का प्रयास जारी है। आग बड़ी तेजी के साथ फैल रही हैख् जिससे बुझाने में मुश्किल आ रही है।

वहीं, पिछले दो दिनों से कालाकोट क्षेत्र के कलर, दो खाड़ी के जंगलों को आग ने चपेट में ले रखा है और दोनों जंगल धूं-धूं कर जल रहे हैं, लेकिन अभी तक इन जंगलों में लगी आग पर काबू नहीं पाया जा सका है।

ग्रामीणों का कहना है कि आग पर काबू पाने को हम ग्रामीण भी वन कर्मियों को काफी सहयोग दे रहे हैं। पिछले दो दिन से इस कार्य में जुटे हैं, लेकिन पूरी तरह आग पर अभी काबू नहीं पाया गया है। गौरतलब है कि पिछले कुछ दिनों से कालाकोट सहित आसपास के कई जंगलों में आग की घटनाएं घटित हुई हैं, जिससे जंगलों को बहुत ज्यादा नुकसान पहुंचा है।

वहीं, इस संबंध में वन विभाग के रेंज अधिकारी राकेश वर्मा का कहना है कि वन विभाग की टीमें जंगलों में आग की घटनाओं को लेकर पूरी तरह सतर्क व चौकस हैं। जिस जंगल में आग की घटना सामने आ रही है वहां तुरंत उस पर काबू पाने को वन कर्मी कार्य कर रहे हैं।

Edited By: Jagran