संवाद सहयोगी, सुंदरबनी : उपजिला सुंदरबनी में सीमा सुरक्षा बल के क्षेत्रीय मुख्यालय परिसर में स्थित केंद्रीय विद्यालय में शनिवार को राष्ट्रीय नई शिक्षा नीति को लेकर कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस अवसर पर केंद्रीय विद्यालय के विभिन्न शिक्षिका और शिक्षकों को विद्यालय के प्रधानाचार्य आरके श्रीवास्तव ने नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति से अवगत करवाया।

कार्यशाला में उपस्थित शिक्षकों को संबोधित करते हुए प्रधानाचार्य आरके श्रीवास्तव ने कहा कि राष्ट्रीय स्तर पर शिक्षा को आदर्श कक्षा में स्थापित करने के उद्देश्य से उसे सही दिशा देने के लिए एक बार फिर शिक्षा नीति वर्ष 2019 रूपी बूस्टर इंजन डालने की तैयारी है। उन्होंने कहा कि कक्षा में विद्याíथयों को दूरदर्शी मनाने जैसे दंड रहित शिक्षा, बोझ रहित शिक्षा, परीक्षा विहीन शिक्षा को प्रमुखता दी गई है। उन्होंने कहा कि शिक्षकों के लिए यह सारी परिस्थितियां किसी चुनौती से कम नहीं है, लेकिन इस परीक्षा में शिक्षकों को सफल होने के लिए अपने बेहतर अनुभव का प्रदर्शन करना होग।

उन्होंने कहा कि यदि हम एक मजबूत नागरिक तैयार करना चाहते हैं तो यह उद्देश्य प्राप्त करने के लिए शिक्षक को कुछ अधिकार देने की भी आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि परीक्षा में मानसिक स्तर पर कमजोर विद्याíथयों को अच्छा नागरिक बनाने का प्रयास करना नई शिक्षा नीति की चुनौतियां हैं। वहीं श्रीवास्तव ने कहा कि समय-समय पर शिक्षकों की कार्यशाला लगाकर उन्हें नई शिक्षा नीति की चुनौतियों और उपेक्षा से अवगत करवाया जाता रहेगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस