जागरण संवाददाता, राजौरी भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) की टीम कोटरंका के खंड विकास अधिकारी के कार्यालय में पहुंची और वहां पर मौजूद रिकार्ड को खंगालने का कार्य शुरू कर दिया है। एसीबी की टीम लगातार रिकार्ड की जांच कर रही है। जानकारी के अनुसार बुधवार को सुबह एंटी करप्शन ब्यूरो की एक टीम बुद्धल ओल्ड ब्लॉक के ब्लॉक डेवलपमेंट ऑफिसर के कार्यालय कोटरंका में पहुंची। टीम ने कार्यालय में पहुंचते ही जमोला क्षेत्र सहित कुछ अन्य पंचायतों में विकास कार्यों से संबंधित रिकार्ड की जांच शुरू कर दी। टीम रिकार्ड की गहराई से जांच कर रही है। सूत्रों का कहना है कि बुद्धल ओल्ड ब्लॉक के कुछ अधिकारियों द्वारा किए गए कार्य संदिग्ध पाए गए हैं, इन अधिकारियों के पास आय से अधिक संपत्ति है। अब एसीबी की टीम हर दस्तावेज की जांच कर रही है और उसके बाद टीम मौके पर जाकर विकास कार्यों का निरीक्षण भी करेगी। क्या वास्तव में विकास के कार्य हुए हैं या फिर सिर्फ कागजों में ही कार्य को पूरा कर करोड़ों रुपये अधिकारियों ने जमा कर लिए है। फिलहाल एसीबी की टीम दस्तावेजों की जांच में जुटी हुई है।

उल्लेखनीय है कि चंद रोज पहले सीबीआइ की टीम ने महोगला ब्लॉक में ग्रामीण विकास विभाग के तीन अधिकारियों को रिश्वत लेते रंगों हाथों गिरफ्तार कर लिया था।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस