संवाद सहयोगी, पुंछ : जिले के दूरदराज गांव ढराना में सेना की ओर से एक शिविर का आयोजन किया गया, जिसमें लोगों को आनलाइन वैक्सीनेशन पंजीकरण के प्रति जागरूक किया गया। वही, मौसमी वायरल के खिलाफ लोगों को जागरूक किया गया।

कोविड-19 के प्रकोप के प्रभावों को कम करने के लिए भारतीय सेना संक्रामक वायरस से लोगों के जीवन को बचाने के अपने प्रयासों को तेज कर कर रही है। कोविड-19 टीकाकरण के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए सेना ने पुंछ जिले के ढराना गांव में टीकाकरण पंजीकरण शिविर का आयोजन किया। सैन्य अधिकारियों ने बताया कि इस शिविर का मुख्य उद्देश्य दूरदराज गांव वालों को जानकारी देना है कि किस प्रकार एप्लिकेशन पर टीकाकरण के तीसरे चरण के लिए अधिक से अधिक स्थानीय लोग पंजीकरण की सुविधा प्राप्त कर सकें और सुविधा के बारे में आस-पास के क्षेत्रों में प्रचार करना था।

इस शिविर के दौरान उपस्थित लोगों को बदलते मौसम के कारण होने वाले नियमित वायरल बुखार के बारे में भी बताया गया, जिसे लोग गलती से कोविड -19 से जोड़ लेते हैं और दहशत की स्थिति पैदा कर देते हैं। स्थानीय लोगों को गर्म पानी, कड़ा पीने और भाप लेने जैसे निवारक उपाय करने की सलाह दी गई।

स्थानीय लोगों ने सेना की ओर से लगाए गए शिविर की सराहना की और इच्छा व्यक्त की कि इस तरह का टीकाकरण पंजीकरण शिविर अन्य स्थानों पर भी आयोजित किया जाना चाहिए, ताकि पूरे क्षेत्र के लोगों को इस पहल से लाभ हो सके। उन्होंने कहा कि शत-प्रतिशत टीकाकरण के लक्ष्य को हासिल करने के लिए लोगों को प्रेरित करने की जरूरत है।

Edited By: Jagran