जागरण संवाददाता, पुंछ : जिले के मेंढ़र कस्बे में रविवार को अतिक्रमण हटाने का अभियान शुरू किया गया था। इस दौरान कुछ स्थानीय लोगों की तहसीलदार मेंढर से हाथापाई हो गई, जिसमें वह घायल हो गए थे। इसके बाद स्थानीय लोगों ने तहसीलदार के समर्थन में प्रदर्शन का सिलसिला शुरू कर दिया और एक वाहन को आग के हवाले कर दिया और दमकल के वाहन वाहन पर पथराव किया था। इसके बाद प्रशासन से क्षेत्र में धारा 144 को लागू कर दी थी।

सोमवार को स्थानीय दुकानदारों ने तहसीलदार पर हमले के विरोध में अपनी दुकानों को बंद रखा। तहसीलदार के साथ मारपीट के आरोप में पुलिस ने मामला दर्ज करने के बाद जांच का कार्य शुरू कर दिया है।

सोमवार को क्षेत्र के दुकानदारों ने अपनी दुकानों को नहीं खोला। दुकानदारों का कहना था कि तहसीलदार शहजाद अहमद क्षेत्र में बेहतर कार्य कर रहे है, लेकिन कुछ लोगों ने तहसीलदार के साथ मारपीट की है जिसे किसी भी सूरत में सहन नहीं किया जा सकता है। दुकानदारों ने कहा कि आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए नहीं तो आने वाले दिनों में जोरदार प्रदर्शन का सिलसिला शुरू किया जाएगा। वहीं, क्षेत्र में स्थिति को तनावपूर्ण देखते हुए प्रशासन ने क्षेत्र में धारा 144 को लागू कर दिया है और अतिरिक्त संख्या में पुलिस के जवानों को तैनात कर दिया है।

Posted By: Jagran