जागरण संवाददाता, ऊधमपुर : वार्ड नंबर एक की प्रमुख गलियों के प्रवेशद्वार की खूबसूरती में चार चांद लगाने वाले टर्नस्टाइल शीट वाले गेट अंतिम रूप लेने लगे हैं। एक गेट पूरी तरह से तैयार हो चुका है और रात को यह रोशनी से जगमगा भी रहा है, जबकि बाकी का काम भी अगले कुछ दिनों में पूरा हो जाएगा।

गौरतलब है कि मेरा शहर मेरा गौरव कार्यक्रम के तहत मार्च के अंतिम सप्ताह में वार्ड नंबर एक की प्रमुख गलियों के मुहाने पर चंडीगढ़ में बने गेटों की तर्ज पर डिजाइन किए गेट बनाने का काम शुरू किया गया। नींव बनाकर एमएस स्टील का ढांचा तैयार कर दिया गया। सभी गेट बनने के बाद अप्रैल मध्य में गेटों को डूको पेंट करने का काम पूरा किया गया। इसके बाद गेट के ढांच के ऊपर लगाने वाले टर्नस्टाइल शीट के शेड का नाप लिया गया।

टर्नस्टाइल शीट के चंडीगढ़ में तैयार किए गए शेड ऊधमपुर पहुंचने के बाद इनको लगाने का काम शुरू कर दिया गया। अद्वैत स्वरूप आश्रम की गली, डिपो वाली गली और एसबीआइ के पास स्थित गली के मुहाने पर बने गेटों सहित सात में छह गेटों पर टर्नस्टाइल शीट के शेड लगा दिए गए हैं। इससे दिन के समय तो गलियों के मुहाने पर बने ये गेट सुंदर लगते हैं। इसमें लाइट भी लगेगी, ट्रायल के तौर पर अभी एक गेट पर लाइटिग भी की गई है। इसके अलावा अभी इस पर वार्ड का नाम, गली का नाम लिखा जाना बाकी है। रात के समय लाइटें जलने पर इनकी सुंदरता और भी बढ़ जाती है।

प्रति गेट पर करीब 50 हजार रुपये की अनुमानित लागत आई है। पहले चरण में वार्ड नंबर एक में इस तरह के सात गेट तैयार किए गए हैं। यह गेट भारत नगर जखैनी, सुभाष नगर और स्पो‌र्ट्स स्टेडियम सहित वार्ड की सात प्रमुख गलियों के प्रवेशद्वार पर बनाए गए हैं। वार्ड की पार्षद प्रीति खजूरिया ने बताया कि अगले 15 दिन में गेट पूरी तरह से बनकर तैयार हो जाएंगे। जिसके बाद इनका लोकार्पण कर दिया जाएगा।

Edited By: Jagran