संवाद सहयोगी, सुंदरबनी : शहर के मुख्य बस अड्डे पर स्थित नगर पालिका के कार्यालय की इमारत की इतनी खस्ता हालत है कि किसी समय भी हादसा हो सकता है। जर्जर हालात में इस इमारत की दीवारों पर 10 से 15 फुट के पीपल व अन्य दूसरी किस्मों के पेड़ पौधे उग आए हैं, लेकिन इसके बावजूद म्यूनिसिपल कमेटी के कर्मचारियों द्वारा कार्यालय को रखा गया ह।ै जिससे किसी समय भी कोई बड़ा हादसा पेश आ सकता है।

करीब एक दशक से लोक निर्माण विभाग के अभियंता ¨वग द्वारा म्यूनिसिपल कमेटी की इमारत को असुरक्षित घोषित किया जा चुका ह, लेकिन इसके बावजूद अधिकारियों व कर्मचारियों द्वारा इस इमारत में कार्यालय को चलाया जा रहा है। दो मंजिला इमारत जो शहर के बीचो बीच स्थित है और इसके आसपास करीब सैकड़ों लोग सब्जी बेचने व अन्य कारोबार करते हैं। साफ है कि जल्दी हादसा हुआ तो काफी सारे लोग इसकी चपेट में आ सकते हैं।

वहीं, इस संबंध में बात करने पर म्यूनिसिपल कमेटी के ईओ सुदर्शन ¨सह का कहना था कि यह इमारत काफी समय से असुरक्षित घोषित की जा चुकी ह, लेकिन इसके बावजूद आला अधिकारियों द्वारा इसे खाली करने का आदेश नहीं दिया जा रहा ह। इस नई इमारत का प्रपोजल भी भेजा गया है, लेकिन मजबूरी में उन्हें इसी इमारत में कार्यालय को चलाना पड़ रहा है।

Posted By: Jagran