संवाद सहयोगी, पुंछ : जिले में जलशक्ति विभाग में नियुक्त अस्थायी तौर पर कार्य कर रहे कर्मचारियों ने यूनियन के अध्यक्ष मकबूल हुसैन और चेयरमैन ऋषि दत्ता के नेतृत्व में पुंछ, मेंढर, सुरनकोट सहित सभी स्थानों पर काम छोड़ हड़ताल करते हुए धरना-प्रदर्शन कर अपनी मांगों को उजागर करते हुए बकाया वेतन जल्द जारी करने की मांग की।

धरने पर बैठे कर्मचारियों ने बताया कि पिछले कई वर्षो से हमारे साथ धोखा किया जा रहा है। हर बार हम लोगों को आश्वासन दिया जाता है, लेकिन हमारी मांगों पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। उन्होंने विभाग पर आरोप लगाया कि हमारे वेतन के लिए जो फंड आए थे, वे विभाग में नियुक्त उच्च अधिकारियों ने दूसरे पर खर्च कर दिया। इस लॉकडाउन के कठिन समय में भी हम लोग बिना वेतन के ड्यूटी दे रहे हैं। हमारे बच्चों का पेट पालना मुश्किल हो रहा है, लेकिन हमारी सुध लेने वाला कोई नहीं है। धरने पर बैठे अस्थायी कर्मचारियों ने कहा कि हम लोग पढ़े-लिखे और सरकारी कर्मचारी होने के बावजूद मजदूरों से बदतर जिदगी गुजार रहे हैं और दूधवाले, सब्जी वाले और राशन के दुकानदारों से चोरों की तरह मुंह छुपा कर भाग रहे हैं। वहीं, बच्चों के स्कूलों के दाखिले का खर्च सिर पर है और हम लोग पैसे-पैसे के लिए दर-दर भटक रहे हैं। सरकार व विभाग हमारी किसी भी मांग पर कोई गौर नहीं कर रहा है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस