संवाद सहयोगी, पुंछ : पाकिस्तानी सेना आए दिन नियंत्रण रेखा पर गोलाबारी कर रिहायशी इलाकों में मोर्टार दागकर स्थानीय लोगों को परेशान कर रही है। सीमावर्ती जिला पुंछ में पिछले कई महीनों से रुक-रुक कर भारी गोलाबारी की जा रही है। पिछले दो दिनों से पाकिस्तानी सैनिकों द्वारा रेंज बढ़ाकर रिहायशी क्षेत्रों को निशाना बनाया जा रहा है। इससे लोगों में दहशत है।

इससे पहले पुंछ जिले के गुलपुर सेक्टर में पाकिस्तानी सेना द्वारा नियंत्रण रेखा पर भारतीय सेना की अग्रिम चौकियों के नजदीकी गांव देगवार, कोसलीया, माल्टी, मंदयाला, खड़ी, करमाड़ा, चकना द बाग आदि नियंत्रण रेखा के नजदीकी गांवों में मोर्टार दागे जाते थे, लेकिन शनिवार को पाकिस्तानी सैनिकों ने नियंत्रण रेखा से कई किलोमीटर दूर पुंछ नगर के निकटवर्ती गांव अजोट तक मोर्टार दागे। पाकिस्तानी सैनिकों द्वारा जिस तरह रेंज बढ़ाकर गोलाबारी की जा रही है, उसके खौफ से नियंत्रण रेखा के अलावा कई किलोमीटर दूर तक रहने वाले लोगों ने बंकर बनवाने की मांग की है, ताकि जब भी पाकिस्तान की तरफ से गोलाबारी हो तो यह लोग अपनी सुरक्षा बंकरों में छिपकर कर सकें।

गांव अजोट की सरपंच जसप्रीत कौर, उप सरपंच सुनील कुमार शर्मा ने कहा कि जिस प्रकार सरकार द्वारा नियंत्रण रेखा के नजदीकी गांवों में बंकर बनवाए जा रहे हैं, वैसे ही बंकर गांव अजोट में भी बनाए जाएं। जिस प्रकार पाकिस्तानी सैनिकों ने रेंज बढ़ाकर कई किलोमीटर दूर तक गोलाबारी शुरू कर दी है। हमारे गांव को भी भारी खतरा है। इससे पूर्व भी कई बार पाकिस्तान की तरफ से हमारे गांव में मोर्टार दागे गए थे, जिसमें कई ग्रामीणों की जान भी जा चुकी हैं। जिस प्रकार शनिवार शाम को पाकिस्तानी सैनिकों द्वारा अजोट में मोर्टार दागा गया। अगर थोड़ा दाएं-बाएं गिरता तो न जाने कितने लोगों की जान जा सकती थी। जब यह मोर्टार गिरा उस समय थोड़ी ही दूरी पर कई बच्चे खेल रहे थे। इसलिए हमारी प्रशासन से मांग है कि जल्द से जल्द हमारे गांव में ही बंकर बनाने का कार्य शुरू किया जाए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस