जागरण संवाददाता, कठुआ : जिले में गणतंत्र दिवस को लेकर सुरक्षा व्यवस्था कड़े कर दिए हैं। कठुआ की पंजाब और पाकिस्तान से लगती सीमा को सील कर दिया है। जम्मू-कश्मीर के प्रवेशद्वार लखनपुर से लोंडी मोड़ तक और शहर में जगह-जगह नाकों पर सुरक्षाबलों की संख्या बढ़ा दी है ताकि राष्ट्रविरोधी तत्व खलल डालने का प्रयास न करे। सरहद से हाईवे को जाते मार्ग पर सुरक्षा बढ़ा दी है। पंजाब पुलिस भी कठुआ पुलिस के साथ पूरा तालमेल बनाकर सुरक्षा ग्रिड को मजबूत बनाए हुए है। गुरदासपुर, पठानकोट एवं कठुआ जिलो की सीमा पाकिस्तान से जुड़ी हैं। ये क्षेत्र सबसे संवेदनशील हैं। सीमा सुरक्षा बल, पुलिस, सीआरपीएफ और सीआइएसएफ के जवान जगह जगह नाकों पर तैनात किए हैं। जिला के एसएसपी रमेश चंद्र कोतवाल ने तीन दिन पहले तमाम सुरक्षा एजेंसियों के साथ जिला मुख्यालय पर बैठक कर सुरक्षा प्रबंधों का खाका तैयार कर लिया है। सेना, सीमा सुरक्षा बल, सीआरपीएफ के अधिकारियों के अलावा खुफिया एजेंसियों के प्रतिनिधि भी शामिल हुए थे। सभी को तालमेल के साथ सुरक्षा की जिम्मेदारी निभाने को कहा ताकि सब कुछ ठीक-ठाक हो सके। मंगलवार जिला के एसएसपी कोतवाल ने जहां मुख्य समारोह स्थल स्पो‌र्ट्स स्टेडियम में दौरा कर सुरक्षा का जायजा लिया,वहीं पूरे जिला में की व्यवस्था को जाना। जम्मू में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। मंगलवार को कटल क्षेत्र के वेईनाले में तलाशी अभियान चलाया। उन्होंने नाले के साथ लगती झाड़ियों को खंगाला। ओल्ड सांबा-कठुआ मार्ग पर बार्डर पुलिस चौकी शेरपुर, सन्याल,चकड़ा, नौचक, मढीन, वनयाडी, हरिया चक, कोटपूननू पर पुलिस गश्त के साथ अतिरिक्त नाके लगाकर आने-जाने वाले वाहनों की जांच कर रही है। जीरो लाइन पर बीएसएफ जवान सीमा पार की गतिविधियों पर नजर रखे है।

Edited By: Jagran