जागरण संवाददाता, कठुआ : आतंकी की तलाश में जम्मू कश्मीर पुलिस ने नगरी से बागथली तक सर्च ऑपरेशन चलाकर चप्पे-चप्पे को खंगाला। हालांकि, पुलिस को कोई भी संदिग्ध नहीं मिला, लेकिन सर्च ऑपरेशन चलने के बाद लोग सकते में हैं।

दरअसल, गत दो दिनों से पंजाब के पठानकोट व गुरदासपुर में कुछ संदिग्ध गतिविधियों के कारण अलर्ट पर होने के बाद जम्मू पुलिस ने नगरी क्षेत्र से लेकर जराई व भागथली तक के इलाके का चप्पा चप्पा खंगाला। शनिवार को कठुआ इलाके में चलाए गए बड़े पैमाने पर सर्च अभियान ने लोगों को भी अलर्ट पर रहने का संकेत दे दिया। हालांकि, जिला पुलिस के अधिकारी सर्च अभियान को पंजाब में अलर्ट होने के कारण ऐहितयातन सर्च ऑपरेशन चलाने की बात कह रहे हैं, लेकिन जिस तरह से सुबह छह बजे से साढ़े आठ बजे तक सैकड़ों की संख्या में जवानों को लेकर एएसपी रमनीश गुप्ता की अगुवाई में बड़े पैमाने पर इलाके में सर्च की गई, उससे स्थानीय लोग सकते में आ गए।

सर्च अभियान में जिला पुलिस के अलावा सीआरपीएफ, बीएसएफ और सीआईएसएफ के जवान भी शामिल रहे। पूरी सतकर्ता के साथ चलाए गए सर्च अभियान में पुलिस को कुछ भी ऐसा संदिग्ध नहीं मिला, लेकिन पहली बार इस क्षेत्र में जारी सर्च अभियान से लोगों में अब पंजाब में सिर उठा रहे आतंकवाद का साया डराने लगा है। 80 के दशक में पंजाब में आतंकवाद के काले दौर से कठुआवासी भी गुजर चुके हैं।

लखनपुर के पास टोल पोस्ट और बस में बम विस्फोट की घटना को याद कर आज भी लोग सिहर जाते हैं। ऐसे में अब जम्मू कश्मीर आतंकवाद के साथ पंजाब के आतंकवाद की संदिग्ध गतिविधियां लोगों में डर पैदा करने लगी है। कठुआ पुलिस ने मुख्य प्रवेश द्वार लखनपुर सहित कई अन्य प्रवेश द्वार पर चौकसी बढ़ा दी है, जिसमें सबसे ज्यादा हल्के वाहनों पर पूरी नजर रखी जा रही है। वाहनों की जांच पड़ताल करने के बाद ही आगे बढ़ने की अनुमति दी जा रही है, जिससे पंजाब के साथ-साथ कठुआ पुलिस भी पूरी चौकसी बनाए हुए है। अभी गत 12 सितंबर को लखनपुर में एक ट्रक से हथियारों सहित तीन आतंकी पकड़े गए थे, जिनसे पूछताछ के बाद पंजाब से भी तार जुड़ने के संकेत मिले थे। उसके कुछ दिन बाद बिलावर में दो घटनाएं विस्फोटक पदार्थ मिलने से सब कुछ संदिग्ध लगने लगा है। उधर, पंजाब पुलिस ने भी बड़े पैमाने पर सर्च अभियान चला रखा है और जो सुबह से रात तक जारी रहा। सूत्रों के अनुसार पंजाब पुलिस को गत 31 दिसंबर 2016 को पठानकोट वायु सेना स्टेशन पर हमले में वांछित आतंकियों को सहयोग करने वाले छह संदिग्ध लोगों के इसी बम्याल क्षेत्र के आसपास रहने की सूचना मिली, जिससे फिर कोई बड़ी वारदात को अंजाम देने की साजिशों को जोड़ कर देखा जा रहा है।

बहरहाल, ऐसे में सीमा पार से भी घुसपैठ की आशंका से इनकार नहीं किया जा रहा है। इसी के चलते पंजाब पुलिस ने सुबह से शुरू किया सर्च अभियान देर रात तक जारी रखा, जिससे वहां अभी सब कुछ संदिग्ध लग रहा है। ऐसे में कठुआवासी भी पड़ोसी राज्य पंजाब की सीमा पर जारी संदिग्ध गतिविधियों के कारण सकते में हैं।

कोट्स----

पंजाब के पठानकोट में जारी अलर्ट और कठुआ जिले से जुड़ी सीमा के कारण एहतियातन सर्च अभियान चलाया गया। जिसमें कठुआ पुलिस के अलावा सीआरपीएफ, बीएसएफ और सीआईएसएफ के जवान भी शामिल थे। सर्च अभियान मे हमारे क्षेत्र में ऐसा कुछ संदिग्ध नहीं दिखा है, फिर भी ऐसे सर्च अभियान आगे भी जारी रहेंगे।

-रमनीश गुप्ता, एएसपी, जिला पुलिस कठुआ।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप