जागरण संवाददाता, कठुआ: विगत एक सप्ताह से जून महीने की प्रचंड गर्मी के बीच हो रही हल्की बारिश एवं तेज हवाएं लोगों को राहत दे रही हैं। बुधवार सुबह हुई मूसलधार बारिश से मौसम एकदम बदल गया।

बुधवार को जिले में 17 एमएम बारिश रिकार्ड की गई, जिससे तापमान एकदम निचे गिर कर अधिकतम 29.7 और न्यूनतम 20.1 डिग्री सेल्सियस पर आ गया है जो गत मंगलवार के मुकाबले 7 डिग्री निचे है। गत 9 जून को जिले में इस सीजन का सबसे गर्म दिन रहा था, जिसमें अधिकतम तापमान 42.8 और न्यूनतम 29 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया था। उसके बाद अब हुई ताजा बारिश से 29.7 तक आ गया। मौसम में आए दिन हो रहे बदलाव से लोगों को गर्मी से काफी राहत मिल रही है।

इस बीच बारिश के साथ चलने वाली हवाओं से लोगों को बार-बार बिजली गुल होने की समस्याओं से परेशान होना पड़ रहा है। शहर में भी कई घंटे बिजली गुल रही जो, 12 बजे के बाद बहाल हो पाई। हालांकि, दूसरी तरफ बारिश से बिजली की कम वोल्टेज में इजाफा होने की संभावना से राहत भी मिलने की उम्मीद है। बुधवार सुबह तड़के बारिश से पहले 24 किलोमीटर प्रति घंटा की स्पीड से तेज हवाएं भी चली। बारिश से कृषि को भी लाभ मिल रहा है, किसानों को अब धान की खेती के लिए मौसम अनुकूल लगने लगा है। इसके चलते किसान खेतों को धान की रोपाई के लिए तैयार करने में जुट गए।

उधर, मैदानी क्षेत्र की तुलना में पहाड़ी क्षेत्रों में बारिश अधिक हो रही है। पहाड़ी क्षेत्र बनी में तो तीन दिन से बारिश जारी है। वहां की सड़कों पर बारिश से फिसलन हो रही है। सेवा दरिया में बहाव तेज हो गया है। इससे वहां जून महीने में भी ठंड जैसा मौसम बन गया है। बाक्स----

बनी में भारी बारिश के बाद ठंड से बचने को पहने स्वेटर

संवाद सूत्र, बनी: पहाड़ी क्षेत्र बनी में बीती रात से लगातार हो रही मूसलधार बारिश के कारण बनी कस्बे के छोड़कर अधिकांश गांव भंडार, कोटी, सित्ति आदि बिजली सप्लाई बंद रही और सड़क पर भी काफी फिसलन हो गई। इसके कारण सड़क पर वाहनों की संख्या कम हो गई। बारिश से तापमान में भी काफी गिरावट महसूस की गई। बनी के कुछ गांव में तो लोगों ने स्वेटर तक भी पहन रखे थे। यह बारिश मक्की की फसल के लिए भी लाभदायक मानी जा रही है। बनी - बसोहली सड़क मार्ग भी यातायात के लिए खुला था।

Edited By: Jagran