संवाद सहयोगी, बसोहली : जिला विकास परिषद के चेयरमैन महान सिंह ने शुक्रवार को झेंखर पंचायत में जनता दरबार लगाकर ग्रामीणों की समस्या सुनी। इस दौरान बिजली और सड़क का मुद्दा छाया रहा। ग्रामीणों ने बताया कि हल्की हवा चलने और बादल छाते ही बिजली काट दी जाती है। इस समस्या का समाधान होना चाहिए। जलापूर्ति की भी क्षेत्र में व्यवस्था ठीक नहीं हैं। गर्मी के महीने में तो लोगों को काफी समस्या का सामना करना पड़ता है। पेयजल के लिए भटकना पड़ता है। ग्रामीणों ने सड़क के काम में तेजी लाने और समय-समय पर गड्ढों को भरने की माग की। झेंखर से पपराल, बरमार गला से झेंखर सड़क बनाने की माग भी की। इसके अलावा गाव में पानी की समस्या में सुधार के लिए हैंडपंप लगाए जाएं। जिला विकास परिषद के चेयरमैन ने कहा कि बताई गई समस्याओं का प्राथमिकता के साथ समाधान किया जाएगा। सरकार ने विकास परिषद का गठन किया है। पंचों और सरपंचों को को ज्यादा अधिकार दिए हैं। इस दौरान जिला विकास परिषद के चेयरमैन ने गाव में कपाडी से हाई स्कूल झेंखर तक 610 मीटर सड़क का काम शुरू करवाया। इस पर 34 लाख रुपये लागत आएगी। इस सड़क का काम लगभग दो माह के भीतर पूरा कर लिया जाएगा। यह गाव की मुख्य सड़क है और इससे आने-जाने में स्थानीय निवासियों को सुविधा होगी। इस सड़क को बनाने की माग पिछले कई साल से गाव के निवासी करते रहे हैं। इस अवसर पर वीडीसी चेयरमैन सुषमा जम्वाल, सरपंच केवल कुमार एवं विभिन्न विभागों के अधिकारी भी उपस्थित रहे।

Edited By: Jagran