संवाद सहयोगी, बिलावर: हिंदू संगठनों ने डीसी से मिलकर बेरल निवासी 35 वर्षीय सुषमा देवी पत्नी मनोहर लाल का इलाज एम्स में करवाने की मांग की है। सुषमा पर निसार अहमद उर्फ ठूठू पुत्र जाकिर हुसैन ने तेजधार हथियार से जानलेवा हमला किया था, जिस के बाद से सुषमा देवी जम्मू मेडिकल कॉलेज में जिदगी और मौत की जंग लड़ रही है। इस हमले से लोगों में काफी रोष है।

रविवार को श्रीनरसिंह गोशाला मांडली पहुंचे डीसी ओपी भगत से हिदू संगठनों के लोगों ने मिलकर कातिलाना हमले की शिकार महिला को एम्स या किसी अन्य अस्पताल में उपचार करवाने की मांग की। डीसी से मिले हिदू संगठनों में विश्व हिंदू परिषद के जिला प्रधान कैप्टन पवन कुमार शर्मा, काह के सरपंच दिनेश खजूरिया, मांडली के सरपंच कैप्टन ओम प्रकाश, कैप्टन बीपी शर्मा, बजरंग दल के जिला प्रधान नीरज कुमार, कैप्टन वीपी शर्मा ने कहा कि युवक द्वारा तेज हथियार से सुषमा देवी के सिर, चेहरे और गर्दन पर कई वार किये गए है, जिसके कारण वह कोमा में चली गई है। उसका चेहरा भी बुरी तरह से खराब हो गया है। उन्होंने कहा कि सुषमा की हालत काफी नाजूक बनी हुई है, जिसके कारण उसे वेंटिलेटर पर रखा गया है। उन्होंने कहा कि पीड़िता का पति दिहाडीदार है। परिवार की आर्थिक बदहाली का शिकार है, जिसे बेहतर उपचार करवाना संभव नहीं है, इसलिए प्रशासन सुषमा की जिदगी बचाने के लिए उसके इलाज करवाने के लिए खर्च करते हुए एम्स या किसी बड़े अस्पताल ले जाए। साथ ही हमलावर युवक के खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।

डीसी ओेपी भगत ने हिदू संगठनो को आश्वस्त करते हुए कहा कि प्रशासन सुषमा का बेहतर से बेहतर इलाज करवाने का प्रयास करेगा। इसके बाद हिदू संगठनों के लोग एसएचओ बिलावर जोगिदर सिंह चिब से मिले। एसएचओ ने बताया कि हमलावर युवक को पुलिस ने 12 घंटों के अंदर गिरफ्तार कर लिया है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस