संवाद सहयोगी, बसोहली: पठियारा गांव के निवासियों का शिष्टमंडल एडीसी तिलक राज थापा से मिला। गांव के काकू राम की अध्यक्षता में मिले शिष्टमंडल ने एडीसी को बताया कि आजादी के बाद पहली बार गांव पठियारा, टिरडी, सुनियारी, लडेर, मेट, परखोड़ में हर घर नल स्कीम के अंतर्गत पानी की समस्या का हल को लेकर पीएचई विभाग कार्रवाई करने जा रहा है।

पीएचई विभाग ने पानी की पाइपों को लगाने का काम शुरू किया। पानी के टैंक को बनाने के लिये भूमि को समतल बनाने का काम शुरू किया है। यहां पर टैंक बनाया जा रहा है, वहां से लगभग 500 घरों को पानी की सप्लाई होनी है, मगर वन विभाग ने इस स्कीम को शुरू होने से पूर्व ही काम को बंद करवा दिया। उन्होंने बताया कि गरीबों के लिये अगर पानी की सुविधा एक समस्या बन रही है तो इसमें हमारा क्या कसूर है। उन्होंने बताया कि एक मरला जमीन से वन विभाग को कोई आपत्ति नहीं होनी चाहिए और यहां पर ना ही कोई महंगा पेड़ इस टैंक के बनाने के बीच आ रहा है। अगर 4 दिन के अंदर पानी के टैंक को बनाने का काम विभाग द्वारा शुरू नहीं किया गया तो सभी पंचायत के निवासी सड़क पर उतरेंगे।

इस अवसर पर त्रिशला देवी, हरनामो, तिलक राज, सावित्री देवी, शान्ति देवी, गूड्डी देवी, कमलेश देवी, किशोरी लाल सहित दर्जनों लोग उपस्थित रहे।

एडीसी बसोहली ने मौके पर ही आर्डर जारी करते हुए एक कमेटी का गठन किया गया है जिसकी अध्यक्षता तहसीलदार बसोहली अमन आनंद करेंगे। इस कमेटी में नायब तहसीलदार बसोहली, नायब तहसीलदार थीन डैम प्रोजेक्ट, एक कर्मचारी वन विभाग से जिसे डीएफओ बसोहली मनोनीत करेंगे। यह कमेटी 15 दिनों के भीतर पठियारा में टैंक के लगे काम की पूरी डिटेल देगी कि टैंक बनने से पूर्व इस जगह से कितने लोगों को लाभ हो रहा था। उन्होंने पठियारा के आसपास के निवासियों को आश्वासन दिलाया कि जो भी होगा उनके भले के लिये होगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस