संवाद सहयोगी, बसोहली: राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर बसोहली डिग्री कालेज में सेव ग‌र्ल्स चाइल्ड विषय पर आनलाइन पोस्टर मेकिंग प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इसमें तीसरे सेमेस्टर की नेहा ठाकुर ने पहला, मोनिका ठाकुर ने दूसरा और तीसरे सेमेस्टर की ही सोनिका कुमारी ने तीसरा स्थान हासिल किया।

प्राचार्य डा निधि कोतवाल ने उद्घाटन भाषण में बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ के बारे में बात की। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा लड़कियों को बचाने के लिए लोगों को सक्रिय रूप से प्रोत्साहित करने को शुरू की गई यह सबसे हालिया पहल है। उन्होंने कहा कि बेटी होगी, तो बेटा होगा। यदि नहीं रही बेटी तो बेटा कहां से लाओगे। हमें बेटियों को बचाने के लिए अपनी ओर से प्रयास करने होंगे। छात्रों को इस सोच को अपने घर-मोहल्ले एवं अपने गांव तक पहुंचाना होगा कि आज की बेटी किसी लड़के से कम नहीं हैं। वह चांद पर जा सकती है तो आसमान में जहाज उड़ा रही हैं। उन्होंने सदियों पुरानी इस धारणा को बदलने पर जोर दिया कि बेटा घर का चिराग है। यदि बेटा एक घर का चिराग है तो बेटी दो घरों की। अपूर्वी कोतवाल ने छात्रों से बातचीत करते हुए समारोह की जानकारी दी और आयोजन के नियम के बारे में निर्देश दिए। प्रतियोगिता में कालेज के बीस विद्यार्थियों ने भाग लिया। कार्यक्रम में प्रो. पवन कुमार, डा. शिव मंगल और डा. जीवन कुमार मौजूद रहे। अंत में डा गौतम सिंह ललोत्रा ने बालिका को बचाने के महत्व को दोहराया और इस तरह के कार्यक्रम आयोजित करने के लिए कालेज की ओर से आयोजन समिति के प्रयासों की सराहना की। डीसी ने सौंपे बेबी केयर किट

जागरण संवाददाता, कठुआ : राष्ट्रीय बालिका दिवस के मौके पर जिला उपायुक्त राहुल यादव ने अपने कार्यालय परिसर में आयोजित समारोह में लाभार्थियों को 8 शैक्षिक और 3 बेबी केयर किट सौंपे। इस मौके पर उन्होंने कहा कि इस दिन को मनाने का उद्देश्य लोगों को उनकी उपलब्धियों और प्रयासों का समर्थन और जश्न मनाने के अलावा मानव जाति के सामंजस्यपूर्ण संतुलन को बनाए रखने में महिलाओं की भूमिका के बारे में जागरूक करना है। उन्होंने कहा कि महिलाएं अब हर क्षेत्र में आगे चल रही हैं और उन्होंने विभिन्न मोचरें पर इसे साबित किया है। उन्होंने कहा कि किसी भी समाज के लिए स्वस्थ बाल लिंग अनुपात समग्र मानव विकास का प्रमुख संकेतक है। इस मौके पर सीपीओ उत्तम सिंह, समाज कल्याण विभाग के अधिकारी अब्दुल रहीम भी मौजूद रहे।

Edited By: Jagran