जागरण संवाददाता, कठुआ : श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाशोत्सव के उपलक्ष्य में गुरुद्वारा कलगीधर सावनचक कमेटी ने नगर कीर्तन का आयोजन किया। नगर कीर्तन में बड़ी संख्या में संगत ने शामिल होकर गुरु के प्रति अपनी आस्था जताई। इस दौरान बड़ी संख्या में महिला संगत भी शामिल रही। जो बोले सो निहाल से माहौल गुरुमय बना रहा।

कड़ी सुरक्षा के बीच सावन चक गुरुद्वारा से शुरू हुआ नगर कीर्तन पारलीवंड होते हुए जराई चौक, मुखर्जी चौक व शहीदी चौक से अंबेडकर ब्रिज और वापस गुरुद्वारा में संपन्न हुआ। नगर कीर्तन की अगुवाई पंज प्यारे कर रहे थे। उससे आगे सेवक पूरे मार्ग को साफ करते हुए नगर कीर्तन के आगे बढ़ रहे थे। जगह-जगह गतका पार्टी हैरतअंगेज करतब से उपस्थित लोगों के बीच आकर्षण का केंद्र बने रहे। इसी बीच सुंदर सजी फूलों से गाड़ी को पालकी बनाकर उसमें गुरु ग्रंथ साहिब को रखा गया था, जिसके दर्शन के लिए संगत आगे बढ़कर नतमस्तक हो रही थी। पूरे मार्ग पर गुरु नानक देव की महिमा का बखान करते हुए महिला श्रद्धालुओं के साथ टाडी जत्थे ने पूरे शहर में माहौल को भक्तिमय बनाए रखा। गुरु भक्ति का यह माहौल करीब 11 बजे शुरू होकर शाम चार बजे तक नगर कीर्तन के संपन्न होने तक जारी रहा।

नगर कीर्तन के दर्शन के लिए जगह-जगह श्रद्धालु खड़े रहे। मुखर्जी चौक में श्री गुरु सिंह सभा गुरुद्वारा में नगर कीर्तन का स्वागत जिला गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के प्रधान सरदार चरणजीत सिंह पोला के नेतृत्व में कमेटी के पदाधिकारियों व नगर परिषद के प्रधान नरेश शर्मा ने अपने पार्षदों संजीव वैध, रंधीर सिंह व भूपेंद्र राज ने किया।

इस मौके पर सरदार महेंद्र सिंह, बलजीत सिंह, जीत सिंह, दलजीत सिंह, सरदार सुरेंद्र सिंह व जगवीर सिंह विशेष रूप से मौजूद रहे। नगर कीर्तन के दौरान शहर में सुरक्षा के कड़े प्रबंध रहे। पुलिस के जवान पूरे मार्ग पर पहरा देते चल रहे थे। डीएसपी माजिद खान व थाना प्रभारी संजीव चिब खुद सुरक्षा व्यवस्था देख रहे थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप