जागरण संवाददाता, कठुआ : जिले में ईद-उल-फितर का त्योहार धार्मिक श्रद्धा एवं हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। इस मौके पर जगह-जगह बड़ी संख्या में मुसलमान समुदाय के लोगों ने अपने अपने क्षेत्र के ईदगाह मैदान में पहुंचकर नमाज अता की और अल्लाह से कौम, देश और राज्य की खुशहाली एवं शाति की कामना की। ईद उल फितर का मुख्य समारोह जिला मुख्यालय पर शहर के ईदगाह मैदान में मनाया गया। जहा पर जिला भर से विभिन्न गावों से आए मुसलमानों ने एकत्रित होकर नमाज अता की और आपसी भाईचारे, प्रेम को बनाए रखने के लिए एकजुटता की अपील की। इस दौरान जामा मस्जिद के मौलवी मौलाना जकरिया ने मुसलमानों को नमाज की रस्म अदा कराते हुए आह्वान किया कि दिन बहुत ही पवित्र है, जिसमें एक महीना तक मुसलमान रोजे रखने के उपरात अपने रोजे खोलते हैं यानि एक माह तक उनका एक संकल्प होता है। उसी संकल्प को अब समाज की बेहतरी एवं सेवा के लिए लाना होता है। उसी के उपलक्ष्य में ईद उल फितर मनाया जाता है। यह त्योहार हमें सभी समुदाय के लोगों के साथ आपसी प्रेम भाईचारा और सद्भाव से रहने और हमें सदैव बिना जातपात के भेदभाव के हमेशा असहाय और गरीब लोगों की सेवा के लिए तत्पर रहने का संदेश देता है। एक सच्चे मुसलमान का फर्ज है कि अगर आपके घर में चूल्हा जल रहा है और आपके पड़ोस वाले में गरीबी के कारण चूल्हा नहीं जल रहा है तो आपको भोजन करने का कोई हक नहीं जब तक आप उस गरीब के घर में चूल्हा जलाने में मदद नहीं करते तब तक आप खुद भी भोजन नहीं करना चाहिए, यह हमें अल्लाह ने बताया है। ऐसे में हमें ईद उल फितर जैसे पवित्र त्योहार पर ऐसे संकल्प लेने चाहिए ताकि हर जगह खुशहाली एवं शांति कायम हो। इस विशेष मौके पर पहुंचे पूर्व वन मंत्री एवं पूर्व विधायक राजीव जसरोटिया ने उपस्थित मुस्लिम समुदाय के लोगों को ईद-उल-फितर की बधाई दी और कहा कि हमें ऐसे पर्व आपसी भाईचारे शाति और प्रेम से रहने का संदेश देते हैं। ऐसे त्योहारों का यहीं एक मकसद होता है कि सभी लोग खुशहाली प्रेम और भाईचारे से रहे, जबकि कठुआ में हमेशा यह भाईचारा कायम रहा है। सभी समुदाय के लोग एक गुलदस्ते की तरह रहते हैं। जिसमें सभी रंग के फूल दिखते हैं।

वहीं प्रशासन से एडीसी घनश्याम सिंह, मुस्लिम वेलफेयर कमेटी के शकील अहमद टोनी, भाजपा सीटी मंडल प्रधान विद्यासागर शर्मा, नेकां के किशोर बख्शी सहित कई अन्य लोग शामिल हुए। ईद उल फितर के उपलक्ष्य में पूरे शहर में रौनक का माहौल रहा। बाजारों में खरीदारी को लेकर भीड़ रही। छोटे बच्चों में भी ईद को लेकर खुशी का माहौल रहा। जो आपस में गले मिलकर इस पर्व के आपसी सौहार्द का संदेश दे रहे थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस