संवाद सहयोगी, कठुआ : देश के विभिन्न राज्यों से सड़क मार्ग के रास्ते बाबा बर्फानी के दर्शन करने के लिए आने वाले श्रद्धालुओं का क्रम जारी है। यात्रा में शामिल होने के लिए आने वाले श्रद्धालुओं को हरसंभव सुविधा देने के लिए जहा प्रशासनिक स्तर पर विशेष प्रबंध किए गए हैं, वहीं स्थानीय लोग भी इसमें अपना बढ़चढ़ कर योगदान दे रहे हैं।

रविवार को राज्य में प्रवेश करने वाले श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए प्रवेश द्वार लखनपुर में श्रीराम नाटक क्लब लखनपुर द्वारा भंडारे का आयोजन किया गया। जिसमें स्थानीय लोगों के साथ-साथ बाबा बर्फानी के दर्शन की कामना लेकर राज्य में प्रवेश करने वाले श्रद्धालुओं ने भी प्रसाद ग्रहण किया। भंडारे में अपने दल के साथ प्रसाद ग्रहण कर रहे उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद से आए श्रद्धालु अजीत अरोड़ा, अमर अग्रवाल और मुक्ति आदि ने प्रवेश द्वार पर स्थानीय लोगों द्वारा उनका स्वागत करने व विशेष प्रबंध करने का आभार जताते हुए कहा कि वे लोग दसवीं बार इस यात्रा में शामिल होने जा रहे हैं। यात्रा के दौरान राज्य प्रशासन और स्थानीय लोगों के मिलने वाले सहयोग के चलते उन लोगों की यात्रा हर बार सुखद ही होती है। हालांकि, सड़क मार्ग से काफी लंबी दूरी तय करने में उन्हें कई तरह की परेशानी होती हैं लेकिन इन परेशानियों के बाद जब भोले बाबा के दर्शन होते हैं तो वह सभी इसके सामने बौने साबित हो जाते हैं। श्रद्धालुओं ने स्थानीय लोगों, पुलिस प्रशासन और यात्रा को सफल बनाने में सहयोग देने वाली लंगर कमेटियों का आभार जताते हुए कहा कि बिना इन सबके सहयोग के इतनी बड़ी यात्रा के सफल होने की उम्मीद नहीं की जा सकती है। उन्होंने बताया कि उनके साथ यात्रा में शामिल 27 श्रद्धालुओं में ज्यादातर लोगों ने अभी अपना पंजीकरण नहीं करवाया है जिसके चलते वे लोग लखनपुर में रुक कर स्वास्थ्य विभाग द्वारा लगाए गए विशेष शिविर में अपना मेडिकल चेकअप करवा रहे हैं। इसके बाद वह जम्मू में अपना पंजीकरण करवाकर यात्रा मार्ग पर आगे बढ़ेंगे।

आपको बता दें कि 1 जुलाई से शुरू हुई यात्रा में अब तक विभिन्न राज्यों से आए लाखों की संख्या में श्रद्धालु दर्शन कर चुके हैं और अभी भी उनके आने का यह क्रम लगातार बना हुआ है। जिसे देखते हुए कठुआ जिला की सीमा में प्रवेश करने वाले यात्रियों का स्वागत करने के लिए कठुआ के लोग भी काफी उत्साहित हैं।

Posted By: Jagran