जम्मू, राज्य ब्यूरो : केंद्रीय सहकारिता राज्यमंत्री बीएल वर्मा ने केंद्र सरकार के जनसंपर्क कार्यक्रम के तहत जम्मू का दौरा कर सहकारिता विभाग के कामकाज का जायजा लिया। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में सरकार जम्मू कश्मीर में सहकारिता क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए वचनबद्ध है। उन्होंने कहा कि सहकारिता विभाग को मजबूत करने के लिए पहले ही कई कदम उठाए गए हैं।

मंत्री ने सहकारिता सोसायटियों को बहाल करने पर विचार विमर्श किया। इससे पहले सहकारिता विभाग की सचिव यशा मुदगल ने केंद्रीय राज्य मंत्री को विभाग की विभिन्न गतिविधियों और उपलब्धियों की जानकारी दी। मंत्री को बताया गया कि जम्मू-कश्मीर में सुपर बाजार के आधुनिकीकरण का कार्य शुरू किया गया है। चार नए सुपर बाजार ऊधमपुर, कठुआ, गांदरबल और कुपवाड़ा जिलों के लिए मंजूर किए गए हैं। जम्मू-कश्मीर में नौ सहकारिता बैंक कार्य कर रहे हैं जिनकी सभी जिलों में 272 शाखाएं हैं। उन्होंने 2021-22 वित्त वर्ष के बजट और प्रशासनिक विभाग में ई आफिस सुविधा शुरू किए जाने की जानकारी भी दी।

जनसंपर्क कार्यक्रम: पर्यटन विकास पर विशेष ध्यान

केंद्रीय जहाजरानी, बंदरगाह और जलमार्ग राज्यमंत्री शांतनु ठाकुर ने बुधवार को कहा कि केंद्र सरकार जम्मू कश्मीर के आर्थिक और औद्योगिक विकास के लिए पूरी तरह संकल्पबद्ध है। पर्यटन क्षेत्र के विकास पर विशेष ध्यान दिया जा रहा और आम लोगों की शासन में भागीदारी को सुनिश्चित किया जा रहा है। पहलगाम में उन्होंने अनंतनाग जिले के पंचायत राज संस्थानों के प्रतिनिधियों और विभिन लोगों के साथ जन संवाद किया। उन्होंने एसबीएम लाभार्थियों के बीच चेक, एकीकृत डेयरी विकास योजना के तहत सब्सिडी वाली दूध वेन, विशेष रूप से विकलांग लोगों को व्हीलचेयर और श्रवण यंत्र, सेहत योजना के लाभार्थियों के बीच गोल्डन कार्ड वितरित किए। राज्य मंत्री को बताया गया कि भेड़ पालन को बढ़ावा देने के लिए आस्ट्रेलियाई भेड़ की किस्मों को स्थानीय प्रजनन के लिए एशिया के सबसे बड़े भेड़ फार्म दक्सुम में लाया गया है। यहां से विलो बैट और पेंसिल स्लेट पूरे देश में निर्यात किए जाते हैं।

बांडीपोरा में विकास योजनाओं का उद्घाटन

केंद्रीय सामाजिक न्याय राज्यमंत्री प्रीतिमा भौमिक ने बुधवार को कहा कि जम्मू कश्मीर के लोगों के समग्र कल्याण, उनके राजनीतिक सशक्तीकरण व आर्थिक विकास के लिए ही केंद्र सरकार ने अनुच्छेद 370 को हटाया है। इसी अनुच्छेद के कारण जम्मू कश्मीर में जनजातीय समूह वनाधिकार और राजनीतिक आरक्षण व जनकल्याण की कई योजनाओं से वंचित थे। जनसंपर्क कार्यक्रम के तहत भौमिक ने बांडीपोरा जिले में विभिन्न विकास योजनाओं का उद्घाटन और नई योजनाओं का ई-नींव पत्थर रखा। उन्होंने डाक बंगला सुंबल में आजादी का अमृत महोत्सव के तहत लगाए गए स्टालों का निरीक्षण किया मंत्री ने इंडोर स्टेडियम शादीपोरा का भी दौरा किया। 

Edited By: Rahul Sharma