जम्मू, राज्य ब्यूरो। केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा है कि अपने बयानबाजी से भय और भ्रम फैला रहे राहुल गांधी को कांग्रेस भी गंभीरता से नहीं ले रही है। उनके गैर जिम्मेदराना बयानों से कांग्रेस मायूस और दिशाहीन है। उनके परिवारजनों की गल्तियों के कारण ही जम्मू कश्मीर के लोगों को 72 साल तक मुश्किलें झेलनी पड़ीं।

जम्मू के नगरोटा में पब्लिक आउटरीच कार्यक्रम के बाद गत रविवार दोपहर को जम्मू एयरपोर्ट पर संवाददाता सम्मेलन में ठाकुर ने कहा कि मोदी सरकार की कोशिश है कि पांच साल में जम्मू कश्मीर और लद्दाख के लोगों को वह सब मिले जो उन्हें सात दशक में भी नहीं मिल पाया। मोदी सरकार जम्मू कश्मीर के लोगों के घरों तक पहुंच रही है। कार्यक्रम का विरोध कर कांग्रेस नेता जन विरोधी होने का सबूत दे रहे हैं। कपिल सिब्बल के नागरिकता संशोधन कानून पर बयान पर उन्होंने कहा कि कांग्रेस दुष्प्रचार कर पड़ोसी देश से प्रताडि़त कर निकाले गए अल्पसंख्यकों का विरोध होने का सबूत दे रही है। ठाकुर ने कहा कि जम्मू कश्मीर के केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद स्थायी शांति बहाल करने की प्रकिया में एक भी मौत नही हुई है।

कश्मीरी पंडितों में उम्मीद जगी

ठाकुर ने कहा कि अब वह समय आ गया है जब कश्मीरी पंडितों की घाटी वापसी होगी। मोदी सरकार की कोशिशों से पंडितों में एक नई उम्मीद जगी है। कश्मीर से बेघर हुए पंडित एक अ'छे जीवन के हकदार हैं। कश्मीरी पंडितों से इंसाफ करने के लिए कोशिशें जारी हैं। मोदी सरकार उनकी उम्मीदों को पूरा करने की दिशा में प्रयासरत है।

जम्मू कश्मीर में क्रिकेट मैच होने की पूरी उम्मीद

अनुराग ठाकुर ने कहा है कि अनु'छेद 370 खत्म होने के बाद से जम्मू कश्मीर में सब अ'छा हो रहा है। ऐसे में यहां पर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच होने की भी पूरी उम्मीद है। पहले जम्मू कश्मीर के हालात के कारण बाधाएं पैदा हो रही थीं। जम्मू कश्मीर क्रिकेट एसोसिएशन के काम करने की आदतें भी मुश्किलें पैदा कर रही थीं। अब जो हालात हैं, उससे पूरी उम्मीद है कि जल्द अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच होगा।  

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप