मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

राजौरी, जेएनएन। जिला राजौरी के नौशहरा सेक्टर में नियंत्रण रेखा से सटे कलाल इलाके में पाक सेना की ओर से शुक्रवार देर रात से शुरू की गई गोलाबारी अभी भी जारी है। शनिवार तड़के पाक सेना ने गोलाबारी में वृद्धि करते हुए कलाल गांव को अपना निशाना बनाया। गांव पर जब पाक सेना ने गोले दागे उस समय लोग सोए हुए थे। करीब ढाई बजे पाकिस्तानी सेना द्वारा दागा गया एक शैल गांव में एक घर पर गिरा, पति-पत्नी दोनों गहरी नींद में सोए हुए थे। विस्फोट में दोनों दंपति गंभीर रूप से घायल हो गए। दोनो को उपचार के लिए उपजिला अस्पताल लाया गया है। जहां उनका उपचार चल रहा है।

जम्मू-कश्मीर में संसदीय चुनाव की प्रक्रिया शुरू होते ही पाकिस्तान ने सीमांत इलाकों में गोलाबारी तेज कर दी है। आए दिन हो रहे इस संघर्षविराम के उल्लंघन के कारण सीम से सटे इलाकों में रहने वाले लोगों में दहशत का माहौल व्याप्त है। हालांकि भारतीय सेना भी पाक सेना को कड़ा जवाब दे रही है, लेकिन इसके बावजूद भी पाक सेना गोलाबारी को जारी रखे हुए है।

नौशहरा सेक्टर के कलाल गांव में हुई गोलाबारी में घायल हुए दंपति की पहचान 32 वर्षीय संजीव कुमार व उसकी पत्नी रीता कुमारी के रूप में हुई है। दोनों घायलों को परिजनों ने गांववालों की मदद से उपजिला अस्पताल नौशहरा पहुंचाया। पाकिस्तान की इस हरकत पर लोगों में आक्रोश है। उन्होंने राज्य व केंद्र सरकार से इसका स्थायी समाधान निकालने की मांग की है। यही नहीं उन्होंने क्षेत्र में बंकरों के निर्माण की मांग भी उठाई है ताकि वह गोलाबारी के दौरान सुरक्षित रह सकें। भारतीय जवान इस गोलाबारी का मुंह तोड़ जवाब दे रहे हैं परंतु पाकिस्तान अभी भी रूक-रूककर गोलाबारी जारी रखे हुए है।

Posted By: Rahul Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप