जम्मू, जेएनएन। जम्मू-श्रीनगर हाइवे पर जारी जाम की स्थिति का असर जिला कठुआ में भी कई दिनों से पड़ रहा है। बढ़ते जाम के चलते हजारों की संख्या मेंं पंजाब से आने वाले मालवाहक ट्रकों को लखनपुर के पीछे ही पूरा दिन रोके रखा गया।

पंजाब से आने वाले किसी भी ट्रक को लखनपुर में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी गई।जिससे हाइवे पूरा दिन जाम से पटा रहा है।इससे यात्री वाहनों को यात्रियों को समय पर गंतव्यों तक पहुंचाने में परेशानी हुई, हालांकि कुछ यात्री वाहनों ने लखनपुर से पंजाब को जोड़ने वाले मार्ग को छोड़कर जिला से सटे दूसरे वैकल्पिक मार्गों को चुना। जिसमें किड़ियां गंडयाल,नगरी बमियाल से भी बड़ी संख्या में यात्री वाहनों सहित अन्य भी वहां से गुजरे।

इसके अलावा चड़वाल से पीछे भी सैकड़ों ट्रकों को यातायात पुलिस ने रोककर रखा था ताकि जम्मू तक क्लीयंरेंस मिलने के बाद सुचारु रूप से वाहनों को चलने की अनुमति दी जा सके।लखनपुर में तो ट्रकों के जमावड़ा से हर कोई परेशान दिखा।

छोटे यात्री वाहनों को कश्मीर जाने से रोका

इसी बीच जम्मू के कुंजवानी से लेकर रगूडा स्थित बत्रा अस्पताल के समीप और फिर खानपुर नगरोटा से लेकर ऊधमपुर तक जगह-जगह ट्रकों को श्रीनगर की ओर जाने से रोक दिया गया है। ट्रैफिक पुलिस की ओर से अब रात के समय ही ट्रकों को कश्मीर घाटी की ओर रवाना किया जाएगा। हालांकि इससे पहले गत शुक्रवार रात को हजारों की तादाद में ट्रक कश्मीर के लिए रवाना हुए। ट्रैफिक पुलिस की ओर से छोटे यात्री वाहनों को भी दोपहर बाद कश्मीर की ओर जाने की इजाजत नहीं दी गई है। सभी छोटे वाहनों को सिदड़ा पुल और नगरोटा टीसीपी से आगे बढ़ने की अनुमति नहीं है।

रास्ते में फंसे ट्रक चालकों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। कई जगह तो उन्हें पीने का पानी तक उपलब्ध नहीं हो पा रहा है।

Edited By: Vikas Abrol

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट