जम्मू, सुरेंद्र सिंह। शहर के चौक-चौराहों पर रोजाना लगने वाले घंटों जाम से जल्द निजात मिलेगी। सरकार शहर के चौक-चौराहों की सूरत बदलने की तैयारी कर रही है। पिछले एक दशक में जम्मू शहर में वाहनों का लोड बढ़ा है। इसके अलावा चौक-चौराहों पर ट्रैफिक लाइट सिस्टम लगने के बाद जाम में बढ़ोतरी हुई है। ऐसे में जाम से निपटने के लिए यातायात के मुताबिक चौक चौराहों का फिर से निर्माण करने की योजना तैयार हो चुकी है। जल्द ही इसे अमलीजामा भी पहनाया जाएगा।

बढ़ते यातायात को देखते हुए जम्मू शहर में पिछले एक दशक में सड़कों का विस्तार हुआ। कुछ जगहों पर नई सड़कें और फ्लाईओवर बने तो कहीं पुरानी सड़कों को चौड़ा किया गया। सिंगल रोड से वन वे और वन वे से फोर लेन तक सड़कें तो पहुंच गई लेकिन वे सब भी यातायात को सुचारू नहीं कर पाई। उधर जम्मू शहर में यातायात को सुचारू बनाने में जुटी ट्रैफिक पुलिस ने भी शहर में जाम के कारणों का सर्वे शुरू किया तो सामने आया कि ट्रैफिक सड़कों पर नहीं बल्कि चौराहों पर जाम होती है। सर्वें में यह भी सामने आया कि अधिकतर जाम चौराहों पर लगते हैं क्योंकि सड़कों के विस्तार के साथ उनमें बदलाव नहीं किए गए। पीछे से आ रहे ट्रैफिक को चौराहों से गुजरने की पूरी जगह नहीं मिल पाती और वहां जाम की स्थिति उत्पन्न हो जाती है। इस समस्या से निपटने के लिए ट्रैफिक पुलिस ने ट्रैफिक सिग्नल भी लगवाकर देख लिया लेकिन इनसे भी स्थिति बदतर ही हुई।

लोक निर्माण विभाग ने साैंपी रिपोर्ट

शहर के चौक चौराहों में बदलाव की रिपोर्ट लोक निर्माण विभाग ने ट्रैफिक पुलिस को सौंप दी है। लोक निर्माण विभाग ने भी अपने स्तर पर सर्वे कर रिपोर्ट तैयार की है जिनमें बताया गया कि किन किन चौक चौराहों में कैसा कैसा बदलाव जरूरी है। लोक निर्माण विभाग ने सतवारी चौक, बिक्रम चाैक, डोगरा चौक, इंदिरा चौक, विवेकानंद चौक, पनामा चौक, नरवाल समेत कई चौराहों को छोटा करने का सुझाव दिया है ताकि वहां से यातायात को निकलने की ज्यादा जगह मिल सके। इसके अलावा कुछ अन्य रोटरियों में भी बदलाव का सुझाव दिया गया है।

चौराहों में बदलाव से दूर होगी समस्या

एसएसपी ट्रैफिक जोगिंद्र सिंह का कहना है कि ट्रैफिक पुलिस के सुझाव के बाद डिप्टी कमिश्नर जम्मू ने कमेटी का गठन करवा चौक चौराहों का सर्वें करवाया था। लोक निर्माण विभाग ने भी ट्रैफिक विभाग को रिपोर्ट सौंप दी है। अब जल्द ही इन चौराहों में बदलाव का काम शुरू होगा जिससे यातायात समस्या दूर होगी।

 

Posted By: Rahul Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप