जम्मू, राज्य ब्यूरो : जम्मू-कश्मीर में कोरोना के मामले लगातार बढ़ते ही जा रहे हैं। जम्मू और श्रीनगर जिले सबसे अधिक प्रभावित हैं। कम टेस्ट होने के बावजूद शनिवार को 65 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई। राहत की बात यह है कि इस दौरान किसी भी मरीज की मौत नहीं हुई और 21 मरीज स्वस्थ भी हुए हैं। नेशनल हेल्थ मिशन से मिले आंकड़ों के अनुसार शनिवार को कुल 10,577 लोगों की जांच हुई। इनमें 65 लोग संक्रमित मिले। जम्मू संभाग में 46 और कश्मीर में 19 मरीज हैं। जम्मू संभाग में जम्मू जिले में सबसे अधिक 38 संक्रमित मिले।

वहीं सांबा जिले में पांच और ऊधमपुर में दो लोग संक्रमित आए। कश्मीर में श्रीनगर जिले में 18 और बडगाम में एक मरीज आया। जम्मू और श्रीनगर जिलों में ही अस्सी प्रतिशत मरीज आ रहे हैं। जम्मू-कश्मीर में पहली लहर से कोरोना पर नजर रखने वाले वरिष्ठ डाक्टर निसार का कहना है कि मरीजों की संख्या जरूर बढ़ रही है लेकिन अस्प्ताल में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या अभी न के बराबर है। ऐसे में अभी चिंता की जरूरत नहीं है। अलबत्ता सभी को संक्रमण से बचाव के लिए अहतियात बरतने की जरूरत है।

वहीं अब जम्मू-कश्मीर में सक्रिय मरीजों की संख्या बढ़ कर 294 हो गई है। जम्मू जिले में सबसे अधिक 165 मरीज हैं जबकि श्रीनगर में 68 मरीज है। तीन महीने में जम्मू-कश्मीर में सक्रिय मरीजों की संख्या सबसे अधिक है। हालांकि जम्मू और श्रीनगर को छोड़ कर सांबा में 13, कुपवाड़ा में दस, बडगाम में सात, ऊधमपुर में चार, कुलगाम में चार, बडगाम में तीन मरीज हैं। वहीं कोरोना से बचाव के लिए टीकाकरण अभियान जारी है। शनिवार को 12 से 14 साल के आयु वर्ग में 904 बच्चों को पहली डोज दी गई जबकि 5808 को दूसरी डोज दी गई। 1550 लोगों ने सतर्कता डोज लगवाई। अभी तक जम्मू-कश्मीर में दो करोड़, 32 लाख 33 हजार से अधिक डोज लोगों को दी जा चुकी हैं।

Edited By: Lokesh Chandra Mishra