जम्मू, राज्य ब्यूरो । श्री बाबा अमरनाथ यात्रा की प्रथम पूजा ज्येष्ठ पूर्णिमा पर वीरवार को पवित्र गुफा स्थल पर होगी। हालांकि इस साल कोरोना से उपजे हालात को देखते हुए बाबा अमरनाथ यात्रा को रद किया जा चुका है मगर पारंपरिक पूजा अर्चना होगी। साथ ही बाबा बर्फानी की पवित्र गुफा से आरती का सीधा प्रसारण होगा। प्रथम पूजा में श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी नीतिश्वर कुमार सहित बोर्ड व प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी भाग लेंगे।

श्री अमरनाथ यात्रा और बुड्डा अमरनाथ यात्रा न्यास के महासचिव सुदर्शन खजूरिया, वरिष्ठ उपप्रधान कर्ण सिंह और उपप्रधान शक्ति शर्मा श्रीनगर पहुंच गए है और वीरवार को पवित्र गुफा पहुंचेंगे। बोर्ड हर साल न्यास के पदाधिकारियों को प्रथम पूजा में भाग लेने के लिए आमंत्रित करता है। वहीं श्री अमरनाथ श्राईन बोर्ड और प्रशासन ने पवित्र गुफा से आरती का सीधा प्रसारण करने की तैयारी कर ली है। श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड और प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी वीरवार को पवित्र गुफा स्थल जाएंगे और प्रथम पूजा में भाग लेने के अलावा तैयारियों का जायजा लेंगे। उपराज्यपाल व अन्य अधिकारी 28 जून को यात्रा के शुरु होने की निर्धारित तिथि पर पवित्र गुफा में पूजा-अर्चना करेंगे।

आरती का सीधा प्रसारण 28 जून से 22 अगस्त तक होगा। आरती श्री अमरनाथ श्राईन बोर्ड की अधिकारिक वेबसाइट पर प्रसारित होगी। सुबह छह बजे से लेकर साढ़े छह बजे तक और शाम को पांच बजे से लेकर साढ़े पांच बजे तक आरती का प्रसारण होगा। बताते चले कि कोरोना के कारण लगातार दूसरे साल भी बाबा अमरनाथ यात्रा को रद किया गया है। हालांकि श्री अमरनाथ जी श्राईन बोर्ड ने यात्रा शुरू करने की घोषणा पहले की थी और 56 दिन की यात्रा 28 जून से शुरू करके 22 अगस्त को संपन्न होने का समय तय किया था।

एक अप्रैल से एडवांस पंजीकरण भी शुरू किया था लेकिन कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी होने के बाद पंजीकरण को बीच में ही बंद कर दिया गया। उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने बोर्ड के सदस्यों से विचार विमर्श करने के बाद यात्रा को रद किया। उपराज्यपाल ने कहा कि जनहित को देखते हुए फैसला किया गया है।

Edited By: Vikas Abrol