श्रीनगर, राज्य ब्यूरो  : कश्मीर में पिछले दिनों गैर कश्मीरियों की हत्या का बदला सुरक्षाबलों ने बुधवार को ले लिया है। जवानों ने कश्मीर में बिहार व उत्तर प्रदेश के श्रमिकों की हत्या में शामिल रहे आतंकियों को ढेर कर दिया है। जवानों ने लश्कर के जिला कमांडर गुलजार अहमद रेशी और द रजिस्टेंस फ्रंट (टीआरएफ) के जिला कमांडर आदिल हुसैन वानी सहित चार आतंकियों को कुलगाम और शोपियां में हुई दो मुठभेड़ में मार गिराया। आतंकियों से लोहा लेते एक सैन्यकर्मी शहीद और दो अन्य जवान जख्मी हो गए। मारे गए आतंकियों के पास से सुरक्षाबलों ने हथियारों का जखीरा बरामद किया है। शोपियां मुठभेड़ में शहीद सैन्यकर्मी (25) कर्णवीर सिंह मध्य प्रदेश के सतना जिले के दलदल गांव के रहने वाले हैं। दोनों मुठभेड़ करीब सात घंटे के अंतराल पर हुई हैं।

मारे गए चारों आतंकी पुलवामा में 16 अक्टूबर को उत्तर प्रदेश के सहारनपुर के बढ़ई सगीर अहमद अंसारी और 17 अक्टूबर को कुलगाम में बिहार के दो श्रमिकों राजा और जोगिंद्र की हत्या के आरोपित थे। गौरतलब है कि बीते एक पखवाड़े में सुरक्षाबलों ने कश्मीर में 11 मुठभेड़ों में अब तक 17 आतंकियों को मार गिराया है, जबकि आतंकी पिछले 19 दिन में पांच गैर कश्मीरियों समेत 11 लोगों की हत्या कर चुके हैं।

पहली मुठभेड़ : पुलिस, सेना और सीआरपीएफ के एक संयुक्त कार्यदल ने शोपियां के द्रग्गड़ इलाके की घेराबंदी कर तलाशी शुरू की। दरअसल, पुलिस को अपने तंत्र से इलाके में टीआरएफ के आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली थी। तलाशी लेते हुए जवान जब आगे बढ़े तो वहां एक जगह छिपे आतंकियों ने उन पर हमला कर दिया। आतंकियों ने जवानों पर राइफल ग्रेनेड दागने के साथ ही अपने स्वचालित हथियारों से अंधाधुंध फायरिंग की। इस दौरान तीन सैन्यकर्मी घायल हो गए। अन्य जवानों ने अपने घायल साथियों को वहां से सुरक्षित जगह पहुंचाने का बंदोबस्त करते हुए आतंकियों पर जवाबी प्रहार किया।

इस दौरान जवानों ने आतंकियों को कई बार आत्मसमर्पण करने के लिए कहा, लेकिन उन्होंने फायरिंग जारी रखी। सुबह साढ़े ग्यारह बजे आतंकियों की तरफ से गोलियां चलना बंद हो गईं तों जवानों ने मुठभेड़स्थल की तलाशी ली। जवानों को वहां गोलियों से छलनी दो आतंकियों के शव, एसाल्ट राइफल व अन्य सामान मिला। इस बीच, मुठभेड़ में घायल तीनों सैन्यकर्मियों को उपचार के लिए बादामी बाग स्थित सेना के 92 बेस अस्पताल ले जाया गया। अस्पताल में एक सैन्यकर्मी ने शहादत पाई। मारे गए आतंकियों की पहचान आदिल अहमद वानी व शाकिर अहमद वानी के रूप में हुई है।

दूसरी मुठभेड़ : शाम करीब सात बजे शोपियां के साथ सटे जिला कुलगाम के सोपट इलाके में सुरक्षाबलों ने अभियान चलाया। जवान जैसे ही आतंकियों के ठिकाने की तरफ बढ़े, उन्होंने फाय¨रग शुरू कर दी। जवाबी फायर करते हुए सुरक्षाबलों ने करीब 10 मिनट में ही वहां छिपे दोनों आतंकियों को मार गिराया। इनमें कुलगाम में लश्कर का जिला कमांडर गुलजार अहमद रेशी और इमरान नबी डार शामिल हैं।

शोपियां मुठभेड़ में मारा गया आदिल टीआरएफ का जिला कमांडर था। उसके साथ मारा गया दूसरा आतंकी शाकिर जिला पुलवामा के लित्तर का रहने वाला था। आदिल बीते साल जुलाई में आतंकी बना था और करीब दो दर्जन आतंकी वारदात में पुलिस को उसकी तलाश थी। शाकिर कुछ समय पहले ही आतंकी बना था। मारे गए आतंकी बिहार और उत्तर प्रदेश के तीन श्रमिकों की हत्या में शामिल थे। आतंकियों के खिलाफ अभियान जारी रहेगा।-विजय कुमार, पुलिस महानिरीक्षक, कश्मीर 

Edited By: Vikas Abrol